Sanmarg Live
Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, : Sanmarg Live, Morning India, Aawami News
BREAKING NEWS


{"effect":"slide-h","fontstyle":"bold","autoplay":"true","timer":"4000"}

वसंत कुंज के शॉपर्स स्टॉप पर हो रही ग्राहकों से लाखों की साइबर धोखाधड़ी

53

- Sponsored -

- sponsored -

नई दिल्ली, जुलाई 11, 201 9: दक्षिणी दिल्ली के अभिजात्य वसंत कुंज के एम्बिएंस मॉल का शॉपर्स स्टॉप आम खरीददारों के लिए साइबर लूट का केंद्र बनता जा रहा है। यहां के कर्मचारी कपड़ा खरीदने वालों को अपनी चिकनी चुपड़ी बातों में फंसा खरीददारों के बैंक अकाउंट से लाखों रुपये की चपत लगा रहे हैं। शातिर अपराधियों के इस गिरोह में सेल्समैन से लेकर प्रबंधक तक शामिल बताए जाते हैं  यह गिरोह यहां आने वाले खरीददारों को ऑनलाइन आर्डर कर घर सामान भेजे जाने का आफर देकर उनसे उनका घर का पता और फोन नंबर आदि जानकारी हासिल कर लेता है। घर पर जो सामान पहुंचता है वह आधा अधूरा होता है।

घर पहुंचे उत्पाद पर एक कॉल सेंटर का नम्बर दिया होता है और यह कहा गया होता है कि किसी भी शिकायत को इस नम्बर पर दर्ज कराएं। परेशान खरीददार जब इस कॉल सेंटर नंबर 1-800-419-6684 पर कॉल कर अपनी शिकायत दर्ज कराता है, पर बीच में ही फोन कट जाता है, जिसके बाद एक प्राइवेट मोबाइल नंबर 9330199375 से उसे कॉल आता है और खरीददार को आश्वस्त किया जाता है कि उसका पैसा वापस किया जाएगा बशर्ते वह एक लिंक को भरे जो खरीददार को मैसेज के तौर पर भेजा जाता है। परेशान खरीददार आनन फानन में वह लिंक भरता है पर यह क्या, लिंक में वह जो जानकारी दे रहा होता है वह उसके मेहनत की कमाई को उसके बैंक अकॉउंट से चंद सेकेंडों में ही साफ कर देता है। फिर उसके बाद न ही कॉल सेंटर पर दुबारा फोन लगता है और न ही वह नंबर लगता है।

- Sponsored -

- sponsored -

हाल ही में हुए एक हादसे में, एक प्रतिष्ठित जनसंचार संस्थान में कार्यरत महिला जब यहां शॉपिंग के लिए आयीं तो उन्हें भी ऐसे ही जाल में फंसाया गया। वसंत कुंज के शॉपर्स स्टॉप में कपड़े खरीदने आयी महिला खरीददार को ऑनलाइन शॉपिंग की राय देकर सेल्समैन ने घर का पता, फोन नम्बर आदि जानकारियां हासिल कर ली और पेमेंट भी ले लिया। पाँच दिन बाद महिला खरीददार के घर जब कपड़े का डाक पहुंचा तब वह अधूरा था। परेशान महिला ने जब लिफाफे पर दिए गए कॉल सेंटर नंबर 1-800-419-6684 पर कॉल किया तो एक बार फिर से उनसे एक लिन्क भेज कर सारी जानकारियां ली गयी और उन्हें लगातार आश्वासन दिया गया कि उनका पैसा रिफंड किया जायेगा  इसी बीच कॉल सेंटर की लाइन डिस्कनेक्ट हो गयी और महिला को 9330199375 से कॉल आया जिसमें पहले से बात कर रहे कॉल सेंटर एक्सीक्यूटिव ने मैसेज बॉक्स में भेजे गए उस लिंक को भरने का आग्रह किया। 9330238949 नम्बर से आये उस लिंक को महिला खरीददार ने जैसे ही भरा, उसके चंद सेकेंड के भीतर उसके बैंक खाते से 49,000 रुपये दो दो बार कर के और 1,000 रुपये दो बार निकाल लिए गए। यानि महिला ग्राहक को चंद सेकेंड में ही पूरे एक लाख रुपये की चपत पड़ चुकी थी।

महिला ग्राहक को जब मालूम चला कि शॉपर्स स्टॉप के इस गिरोह ने उसे लाखों रुपये के साइबर लूट का निशाना बनाया है तो उसके होश उड़ गए। मामले की शिकायत साइबर अपराध थाने में कराई गई है और पुलिस अनुसंधान जारी है पर ज़रूरत इस बात कि है कि हम एक ग्राहक के तौर पर सजग रहें और किसी भी परिस्थिति में बैंक सम्बंधी जानकारी किसी से भी साझा नहीं करें। इस तरह के साइबर लूट दिल्ली और एनसीआर के ज्यादातर माल में देखी जा सकती है  और इस मामले में बहुत ज्यादा कानूनी मदद भी लोगों को नहीं मिल पा रही है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -