Sanmarg Live
Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, : Sanmarg Live, Morning India, Aawami News
Breaking News
मुख्यमंत्री के ‘क-ख-ग…’ बयान पर तेजस्वी का पलटवार, कहा – अगर मुझे नहीं आता तो आपने मुझे डिप्टी सीएम क्यों बनायाप्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थापित लिपिक को रिश्वत लेते रंगे हाथ किया गिरफ्तारगंगा के जलस्तर में अप्रत्याशित वृद्धि ने ढाया कहर, कई गांव भीषण बाढ़ की चपेट मेंबिहटा में बाइक सवार अज्ञात अपराधियों ने दिनदहाड़े फायरिंग कर फैलाई दहशतसीएम नीतीश ने बक्सर से भागलपुर तक गंगा के जलस्तर का किया हवाई सर्वेक्षणराजद विधायक सीएम आवास के आगे बैठे धरना परमुख्यमंत्री ने विरोधियों पे कसा तंजजानिये किन लोगों को कांग्रेस नहीं देगी टिकट ?जब भाजपा नेता ने पार्टी मुख्यालय में ही पत्नी पर किया हमलामुख्यमंत्री ने बड़बोले नेताओं को चेताया, कहा – बिहार एनडीए में कोई दरार नहीं

वाहन दुर्घटना में पत्नी की मौत, पति जख्मी

वाहन दुर्घटना में पत्नी की मौत, पति जख्मी

20

- sponsored -

- Sponsored -

परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप
मृतका के मायके वालों के पहुंचने के बाद अधजला शव छोड़ श्मशान घाट से भागे ससुरालवाले
संवाददाता
पकरीबरावां/नवादा। नवादा-जमुई पथ पर कचना मोड़ के समीप सोमवार की देर रात्रि ट्रक के चकमे से एक स्कूटी पुल के नीचे जा गिरी। जिससे स्कूटी पर सवार पति-पत्नी दोनों गम्भीर रूप से जख्मी हो गए। गश्ती कर रही पुलिस ने आनन-फानन में दोनों को इलाज के लिए पकरीबरावां स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। जहां चिकित्सकों ने महिला को प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए सदर अस्पताल नवादा रेफर कर दिया। जहां नवादा ले जाने के क्रम में महिला की मौत रास्ते में हो गई। वहीं मृतका के मायके वालों ने ससुराल वालों पर बेटी की हत्या कर साक्ष्य छुपाने को लेकर सड़क दुर्घटना का नाटक रच शव को जलाने का आरोप लगाया है। इस संबंध में मृतका के जख्मी पति पकरीबरावां थाना क्षेत्र के धेवधा निवासी जितेन्द्र कुमार ने बताया कि सोमवार की रात्रि पत्नी की पेट में अचानक जोर का दर्द उठ गया। जिसे दिखाने के लिए कौआकोल के सितुआ मोड़ जा रहे थे। इसी दौरान जमुई की ओर से आ रही एक आज्ञात ट्रक ने चकमा दे दिया। जिसके कारण स्कूटी पुल में जा गिरी। जिससे वह बेहोश हो गया और उसके बाद उसे कुछ भी याद नही रहा। इधर मृतका के पिता मेसकौर थाना क्षेत्र के लौंध निवासी उदय महतो को जब घटना की जानकारी मिली तब उसने परिवार के कई लोगों के साथ धेवधा गांव पहुंचे। गांव पहुंचने के बाद उसने देखा कि मेरी बेटी को श्मषान घाट में ले जाकर जलाया जा रहा है। और हमलोगों आते देख बेटी के ससुराल वालों अधजला शव को छोड़ श्मषान घाट से भाग खड़ा हुआ। तब उसने इसकी सूचना पकरीबरावां थाना पुलिस को देते हुए न्याय की गुहार लगाया। पुलिस भी तत्परता के साथ गांव पंहुचकर अधजले शव को बरामद कर लिया। जानकारों की माने तो शव लगभग जल चुका था। पुलिस ने मृतका के परिजन को स्वास्थ्य केन्द्र लेकर पहुंची, मृतका के पति जितेन्द्र का इलाज चल रहा है। जबकि मृतका की मां रूबी देवी ने बताई कि मेरी पुत्री की हत्या घर मे ही पीट-पीटकर कर दी गयी है। साक्ष्य को छुपाने के उद्देश्य से वह शव को जला दिया। बगैर हमे सूचना दिये श्मषान घाट शव को क्यों ले जाया गया। मामला चाहे जो भी हो मृतका के तीनों बच्चे खुशी कुमारी 8 वर्ष, कमलजीत कुमार 4 वर्ष तथा करीना कुमारी 2 वर्ष की हालात रो-रोकर काफी खराब हो रहा था। लोग सोचने को विवश हैं की आखिर इन बच्चों का क्या होगा जो अपनी हंसी खुशी के दिन को गम के इन बादलों को कैसे सह पाऐंगे। इतनी दर्दनाक घटना के बाद दोनों परिवार आपस मे ही उलझ गए हैं। मृतका के पति दिल्ली में रहकर अपने जीविकोपार्जन करते है। घटना की जानकारी मिलते ही पकरीबरावां अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी मुकेश कुमार साहा तथा थानाप्रभारी सरफराज इमाम ने स्वास्थ्य केंद्र पंहुचकर मामले की जांच में जुट गए हैं।

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -