Sanmarg Live
Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, : Sanmarg Live, Morning India, Aawami News
BREAKING NEWS


{"effect":"slide-h","fontstyle":"bold","autoplay":"true","timer":"4000"}

भीषण चोरी मामले का पुलिस ने किया उद्भेदन

22

- sponsored -

- Sponsored -

फारबिसगंज अररिया:- फारबिसगंज पुलिस ने छठ की रात एक बन्द घर से अज्ञात चोरों द्वारा भीषण चोरी मामले में उद्भेदन कर दिया है।
इस मामले में पुलिस ने दो चोर को गिरफ्तार कर लिया है। शुक्रवार को आदर्श थाना फारबिसगंज में एसडीपीओ मनोज कुमार ने एक प्रेस वार्ता कर उक्त घटना का उद्भेदन करते हुए बताया कि छठ पूजा उपलक्ष्य में अपनी पुत्री के ससुराल पटना गये स्थानीय वार्ड संख्या 19 पुराना सेंट्रल बैंक के सामने वाली गली में दम्पति प्रोफेसर दिलीप अग्रवाल के आवास पर अज्ञात चोरों द्वारा भीषण चोरी की घटना को अंजाम दिया गया था। जिसको लेकर पीड़ित दिलीप अग्रवाल एवं उसकी पत्नी अधिवक्ता सह प्रॉफेसर उर्मिला जैन के द्वारा स्थानीय थाना में आवेदन दिया गया था।
जिसमें उक्त चोरी की घटना का जिक्र करते हुए बताया गया कि अज्ञात चोरों द्वारा घर से तीन गोदरेज का लॉकर तोड़कर उसमें रखे आठ से नो लाख के जेवर जेवरात एवं 90 लगभग रुपये नकदी की चोरी की घटना को अंजाम की बात कही गई थी। जिसके तहत पुलिस द्वारा कांड संख्या 1042/19 का मामला दर्ज किया गया था।
एसडीपीओ ने बताया कि थानाध्यक्ष कौशल कुमार के नेतृत्व में दरोगा बिमल मण्डल, शंभु कुमार एवं वीरेंद्र सिंह के द्वारा छापेमारी के शहर के गुदरी टोला वार्ड 20 से मो. आजाद पिता नाशिर के घर से चोरी के कुछ जेरात के साथ उसे गिरफ्तार कर लिया उसके निशानदेही पर वार्ड संख्या 15 पौखर बस्ती से इनामुल हक पिता स्व. इदरीश की गिरफ्तारी की गई। दोनों आरोपी से पूछताछ के क्रम में अपराधियो में से एक इनामुल हक ने कुछ सामान अपने ससुराल जिला अंतर्गत बैरगाछी में रखा था जहाँ उसके निशानदेही पर पुलिस ने जमीन के अंदर से अन्य जेवरात जब्त किया है। बताया कि इस घटना में शामिल दो अन्य चोर का नाम सामने आया है जो पुलिस के नजरो से फरार है। पुलिस द्वारा जब्त सामानों में हीरा का दो अंगूठी, एक कन बाली, एक मंगलसूत्र, चार सोना का बाली, दो चैन, करीब एक दर्जन चांदी का सिक्का लगभग छः से साथ लाख रुपये मूल्य के जेवरात की बरामदगी पुलिस ने उक्त चोरों से किया है। बताया पुलिस द्वारा घटना में शामिल अन्य अपराधियों की तलाश जारी है। बताया कि मो. आजाद पहले भी चोरी के मामले में जेल गया हुआ है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored