Sanmarg Live
Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, : Sanmarg Live, Morning India, Aawami News
Breaking News
मुख्यमंत्री के ‘क-ख-ग…’ बयान पर तेजस्वी का पलटवार, कहा – अगर मुझे नहीं आता तो आपने मुझे डिप्टी सीएम क्यों बनायाप्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थापित लिपिक को रिश्वत लेते रंगे हाथ किया गिरफ्तारगंगा के जलस्तर में अप्रत्याशित वृद्धि ने ढाया कहर, कई गांव भीषण बाढ़ की चपेट मेंबिहटा में बाइक सवार अज्ञात अपराधियों ने दिनदहाड़े फायरिंग कर फैलाई दहशतसीएम नीतीश ने बक्सर से भागलपुर तक गंगा के जलस्तर का किया हवाई सर्वेक्षणराजद विधायक सीएम आवास के आगे बैठे धरना परमुख्यमंत्री ने विरोधियों पे कसा तंजजानिये किन लोगों को कांग्रेस नहीं देगी टिकट ?जब भाजपा नेता ने पार्टी मुख्यालय में ही पत्नी पर किया हमलामुख्यमंत्री ने बड़बोले नेताओं को चेताया, कहा – बिहार एनडीए में कोई दरार नहीं

लीगल वॉलेंटियर व विकास मित्र को दिया गया प्रशिक्षण

15

- sponsored -

- Sponsored -

अररिया – बाल श्रम उन्मूलन को अमली जामा पहनाने के लिए सदर प्रखंड के डीआरसीसी कार्यालय में यूनिसेफ एवं नेहरू युवा केन्द्र के तत्वाधान में विकास मित्र एवं पारा लीगल वॉलेंटियर को अलग अलग दो शिफ्टों में प्रशिक्षण दिया गया। विकास मित्र एवं पारा लीगल वॉलेंटियर को प्रशिक्षण देते हुए पटना से आये हुए यूनिसेफ के प्रशिक्षक अजय कुमार एवं तारकेश्वर सिंह ने बताया कि बिहार में बालश्रम की रोकथाम के लिए पायलट प्रोजेक्ट के तहत 51 प्रखंड को चयनित किया गया है। जिसमें अररिया जिले के सदर प्रखंड एवं नरपतगंज प्रखंड शामिल है। जिसके लिए बाल श्रम विभाग के मंत्रालय ने इस काम के लिए विकास मित्र एवं पारा लीगल वॉलेंटियर को चयनित किया है। प्रशिक्षक ने कहा कि वर्तमान समय में ग्रामीण इलाकों में ज्यादा बेरोजगारी होने के वजह से 14 वर्ष से कम आयु के अधिकांश बच्चे और 14 से 18 वर्ष के किशोर बच्चे पढ़ाई छोड़कर बाल मजदूरी करने को विवश हैं। इसलिए बच्चों को शिक्षा के मुख्य धारा से जोड़ने के लिए बाल श्रम उन्मूलन अभियान चलाकर बाल मजदूरी पर लगाम लगाना अति आवश्यक है।

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored