Sanmarg Live
Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, : Sanmarg Live, Morning India, Aawami News
BREAKING NEWS


{"effect":"slide-h","fontstyle":"bold","autoplay":"true","timer":"4000"}

ग्रामीणों में आक्रोश, सड़क मरम्मत नहीं होने पर दी आंदोलन की चेतावनी

38

- Sponsored -

- sponsored -

पश्चिमी चंपारण : गौनाहा प्रखंड अंतर्गत पचरुखिया मोड़ से महुआभूसा , लक्षनौता, हरदी, बेलवा, डरौल होते हुए मेहनौल जाने वाली प्रधानमंत्री ग्राम सड़क राहगीरों के लिए जानलेवा बन चुकी है । स्थानीय लोगों का कहना है कि लगभग 4 साल पहले बनाई गई इस महत्वपूर्ण सड़क का अभी तक संबंधित विभाग के अधिकारियों ने मेंटेनेंस कराना भी मुनासिब नहीं समझा । विभागीय लापरवाही और जनप्रतिनिधियों की उदासीनता के कारण इस रोड की मरम्मत का कार्य भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गया । इस सड़क में सफर करने वाले छोटे बड़े और भारी वाहनों के दुर्घटनाग्रस्त होने का खतरा बना रहता है । यह सड़क कई जगहों पर अपना अस्तित्व खो चुका है । सड़क जगह-जगह गड्ढे में तब्दील हो गया है । इस रास्ते में लक्षनौता के पास पुलिया है जो 2017 के प्रलयकारी बाढ़ में ध्वस्त हो गई थी । जिसे स्थानीय ग्रामीण की सहायता से मिट्टी भर के चलने के लायक बनाया गया है । लेकिन आज तक उसका पुनर्निर्माण नही कराया जा सका । क्षेत्र के लोगों का आरोप है कि इस संबंध में जनप्रतिनिधियों और सरकारी अधिकारियों से गुहार लगाई गई है । लेकिन आज तक कोई सुनवाई नहीं हुई । लक्षनौता निवासी पप्पू कुमार, भुनेश्वर पटेल, विनोद पाण्डेय आदि का कहना है कि जब चुनाव आता है तो समस्त दलों के नेता सड़क को मुद्दा बनाकर चुनाव के बाद मरम्मत करने का वादा करते हैं । लेकिन चुनाव जीत जाने के बाद कोई नजर नहीं आता है। वही महुवा भूसा निवासी शेख शबीर, अरविन्द कुमार शर्मा का कहना है कि सड़कों के मरम्मत न होने से लोगों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है । लेकिन विभाग और दलों के लोगों के द्वारा दर्द नही समझा गया तो जल्द ही आंदोलन किया जाएगा ।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -