Sanmarg Live
Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, : Sanmarg Live, Morning India, Aawami News
BREAKING NEWS


{"effect":"slide-h","fontstyle":"bold","autoplay":"true","timer":"4000"}

अपहरण का केस दर्ज नही करने पर सुल्तानगंज इंस्पेक्टर को डीआईजी ने किया निलंबित

केस दर्ज नही करने के मामले में 72 घंटे के भीतर भागलपुर रेंज के तीसरे थानेदार सस्पेंड

26

- sponsored -

- Sponsored -

भागलपुर-सुल्तानगंज स्थित अजगैबी ज्वेलर्स में कारीगर का काम करने वाले छोटू उर्फ रंजीत कुमार के गायब होने मामले में केस दर्ज नहीं करने पर सुल्तानगंज थानेदार सह इंस्पेक्टर अमर विश्वास को डीआईजी विकास वैभव ने सोमवार को निलंबित कर दिया है. छोटू तातारपुर थाना क्षेत्र के मंदरोज़ा निवासी कृष्ण प्रसाद साह का पुत्र है. कृष्ण का पुत्र 25 मई से ही गायब था। 29 मई को वे सुल्तानगंज थाना बेटे के अपहरण का मामला दर्ज कराने गए. जिसमें उन्होंने अपनी बहन कल्याणी देवी और बहनोई बजरंगी प्रसाद साह पर अपहरण का आरोप लागाया था.लेकिन थाने में शिकायत दर्ज नहीं की गई.

इसके बाद उन्होंने मामले की शिकायत भागलपुर रेंज डीआईजी विकास वैभव से की.इस मामले में एसएसपी और डीएसपी ने भी केस दर्ज करने का निर्देश इंस्पेक्टर को दिया था.लेकिन उन्होंने इस बात को भी नजर अंदाज कर केस नहीं किया.बता दें को 72 घण्टे के भीतर डीआईजी ने केस दर्ज नहीं करने पर तीसरी कार्रवाई की है. बता दें कि विगत शनिवार को एक वृद्ध महिला की बेटी का अपहरण का केस दर्ज नही करने और डीआईजी के निर्देश का उल्लंघन करने पर भागलपुर जिला के सजोर थानाध्यक्ष एसआई शंकर दयाल प्रभाकर को सस्पेंड किया गया था. नवगछिया पुलिस जिला में थानेदार ने अपहरण का केस दर्ज नही किया, जिसके बाद रविवार सुबह अपहृत युवक का शव मिला. जिसके बाद लोगो मे पुलिस के विरुद्ध आक्रोश भड़क गया. इस मामले में डीआईजी ने नवगछिया थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर लाल बहादुर को सस्पेंड कर दिया था.

- Sponsored -

- sponsored -

वही भागलपुर रेंज डीआईजी विकास वैभव ने साफ-साफ कह दिया है की कार्य में लापरवाही बर्दाश्त नही किया जाएगा.एक सप्ताह के भीतर 2 निरीक्षकों सहित 3 एसएचओ को निलंबित करना पड़ा.पुलिस अधिकारी को जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाए.अवैध कार्यो में संलिप्तता बर्दास्त नही किया जाएगा.

बता दें कि विकास वैभव ने डीआईजी भागलपुर के पद पर रहते हुए अब तक 18 हज़ार शिकायतकर्ताओं से सीधी मुलाकात की और समस्याओं से निजात दिलाया। ड्यूटी के प्रति लापरवाह और जनता को परेशान करने वाले 49 थानेदारों को निलंबित किया है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -