Sanmarg Live
Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, : Sanmarg Live, Morning India, Aawami News

धर्मांतरण के खिलाफ कठोर कानून बनाए सरकार : हिन्दू महासभा

53

- Sponsored -

- sponsored -

नयी दिल्ली।

अखिल भारतीय हिन्दू महासभा और अन्य हिंदूवादी संगठनों ने कहा है कि देश में लव जेहाद को बढ़ावा देने के लिए विदेशों से धन आ रहा है जिसे रोकने के लिए सरकार को धर्मांतरण के खिलाफ कठोर कानून बनाना चाहिए।
राजधानी के प्रेस क्लब में छत्तीसगढ़ के धमतरी से संबंधित लव जेहाद के एक मामले पर चर्चा के लिए आयोजित संवाददाता सम्मेलन में हिंदू संगठनों ने यह बात कही और सरकार से धर्मांतरण को रोकने के लिए कठोर कानून बनाने की मांग की है।

- Sponsored -

- sponsored -

छत्तीसगढ़ के धमतरी निवासी अशोक कुमार जैन ने पनी 23 वर्षीय बेटी बेटी अंजली जैन के लव जेहाद का शिकार बनने का आरोप लगाते हुए कहा कि मोहम्मद इब्राहिम सिद्दीकी नामक एक व्यक्ति ने फर्जी पहचान बताकर उनकी बेटी को अपने प्रेम के जाल में फंसाया और उससे शादी कर ली।

श्री जैन ने कहा कि उनकी बेटी मानसिक रूप से अस्वस्थ है जिसका फायदा इब्राहिम सिद्दीकी ने उठाया। उन्होंने इस मामले में छत्तीसगढ़ सरकार और पुलिस से मदद नहीं मिलने का आरोप लगाया है।
सभी हिंदू संगठनों ने कहा कि वे श्री जैन के मामले में छत्तीसगढ़ सरकार से उचित कार्रवाई की मांग करते हैं और ऐसा नहीं होने पर बड़े पैमाने पर प्रदर्शन करने की चेतावनी दी है।

महामंडलेश्वर नवलकिशोर दास ने लव जेहाद को बढ़ावा देने के लिए विदेशों से धन लेने का आरोप लगाते हुए कहा, “जिस तरह आतंकवाद को बढ़ावा देने के लिए विदेशों से धन भेजा जाता है, ठीक उसी तरह कट्टरपंथी इस्लामिक ताकताें की ओर सुनियोजित तरीके से लव जेहाद को बढ़ावा देने के लिए मुस्लिम युवाओं को पैसा दिया जाता है।”
जैनाचार्य डॉ लोकेश मुनिजी ने कहा कि लव जेहाद के जरिए धर्मांतरण एक गंभीर मामला है और वह केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मिलकर इसे रोकने के लिए कठोर कानून बनाए जाने की मांग करेंगे।
इस अवसर पर राष्ट्रीय संत जैनाचार्य डॉ लोकेश मुनिजी, अखिल भारतीय हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ पाताल नाथजी अवधूत, बंगला साहब गुरुद्वारा समिति के अध्यक्ष परमजीत सिंह चंडोक, महामंडलेश्वर नवलकिशोर दास जी,स्वामी योगेश्वरचार्य जी महाराज,(जगतगुरू रामानुजाचार्य), अजयजी और (अंतररास्ट्रीय हिन्दू सेना) के स्वामी अदित्यकृष्ण गिरी भी मौजूद थे।
श्री चंडाेक ने धर्मांतरण के खिलाफ लड़ाई में हिंदू संगठनों के प्रति एकजुटता दिखाई।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -