Sanmarg Live
Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, : Sanmarg Live, Morning India, Aawami News

एक लाइन होटल संचालक को तीन अज्ञात लोगों ने गोली मारकर घायल कर दिया

- sponsored -

नवादा – गुरुवार की दोपहर जिले के राजौली अनुमंडल कार्यालय के पास एक लाइन होटल संचालक को तीन अज्ञात लोगों ने गोली मारकर घायल कर दिया। लगभग 6 माह पूर्व के पुरानी रंजिश में अज्ञात लोगों द्वारा घटना को अंजाम दिया गया है। जिस समय यह घटना हुई, उस समय घायल युवक साधु यादव अपने होटल से घर जा रहा थे। इसी बीच बाइक सवार तीन लोगों ने उस पर तड़ातड़ गोलियां चला दी। गोली चलाने के बाद बाइक सवार तीनों युवक हरदिया की ओर भाग निकले। साधु यादव को एक गोली बांह में व एक गोली जांघ में लगी है। घायल साधु यादव को आनन-फानन में आसपास के ग्रामीणों द्वारा अनुमंडलीय अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां चिकित्सक डॉ रामप्रवेश कुमार ने प्राथमिक उपचार कर चिंताजनक स्थिति को देखते हुए उसे सदर अस्पताल नवादा रेफर कर दिया। घायल युवक रजौली थाना क्षेत्र के चौथा गांव निवासी केदार यादव का पुत्र है। जो कुछ दिन पूर्व जेल से बाहर आया है। सूत्रों की माने तो गोली मारने वाले युवक बदले की भावना से साधु को गोली मारी है। लोगों का मानना है कि इस घटना की तार बालू घाट से भी जुड़े होने की संभावना है। थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर सुजय विद्यार्थी ने बताया कि होटल संचालक को गोली मारे जाने की सूचना मिली है। मामले की जांच की जा रही है। घायल युवक के परिजनों द्वारा अभी तक किसी प्रकार का लिखित आवेदन थाने को नहीं दिया गया है। आवेदन मिलने पर उचित कार्रवाई की जाएगी। वहीं मिली जानकारी के मुताबिक घटना को अंजाम देने वालों में सिरदला थाना क्षेत्र के जमुनियां गांव निवासी विजय यादव का पुत्र विपिन यादव, लालो यादव समेत एक अन्य लोगों के शामिल होने की बात सामने आ रही है। सूत्रों के मुताबिक लगभग 6 महीने से ज्यादा समय पूर्व विजय यादव के साथ रजौली पुरानी बस स्टैंड में धनार्जय नदी के पास आधा दर्जन लोगों ने जमकर मारपीट की थी। उक्त घटना में अज्ञात लोगों ने विजय यादव का हाथ-पैर तोड़ दिया था। उक्त रंजिश को लेकर विजय यादव के बेटे ने मौका मिलने पर मारपीट करने वालों को सबक सिखा देने की बात कही थी। इसी को लेकर साधु यादव को गोली मार दी। हालांकि गोली चलने की घटना की सूचना मिलने के बाद लोगों की निशानदेही पर रजौली पुलिस ने हरदिया की ओर पीछा भी की। लेकिन अपराधियों का कहीं अता-पता नहीं चल सका।

Before Author Box 300X250
Befor Author Box Desktop 640X165
After Related Post Desktop 640X165
After Related Post Mobile 300X250