सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

बंगाल में एक और बीजेपी विधायक का मर्डर या आत्महत्या ? सवालों के घेरे में टीएमसी सरकार

उत्तर दिनाजपुर में आरक्षित सीट हेमताबाद के भाजपा विधायक देवेन्द्र नाथ रे का शव उनके गांव के घर के पास बिंदाल में लटका मिला। लोगों का स्पष्ट मत है कि उसे पहले मारा गया और फिर लटका दिया गया: भाजपा पश्चिम बंगाल

- sponsored -

पश्चिम बंगाल : बाजार में लटका बीजेपी विधायक का शव
बंगाल बीजेपी ने लगाया हत्या का आरोप
बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय ने की घटना की निंदा
कोलकाता: पश्चिम बंगाल (West Bengal) के दिनाजपुर में मार्केट में BJP विधायक का शव लटका हुआ मिला है. बीजेपी के हेमताबाद से विधायक देबेंद्र नाथ का शव सोमवार सुबह एक दुकान के बाहर बरामदे में लटका मिला. भारतीय जनता पार्टी (BJP) का दावा है कि विधायक की हत्या की गई है. यह घटना जिस जगह पर हुई है वहां से विधायक का घर करीब एक किलोमीटर दूर है. उनके परिवार के एक सदस्य ने दावा किया है कि कुछ लोग रात में 1 बजे घर आए थे और उन्हें बुलाकर ले गए थे. आज सुबह स्थानीय लोगों ने उनका लटकता हुए शव देखाऔर पुलिस को बुलाया.


बंगाल बीजेपी ने अपने ट्वीट में दावा किया, “उत्तरी दिनाजपुर की आरक्षित सीट हेमताबाद से बीजेपी विधायक देबेंद्र नाथ रे का शव उनके गांव के पास बिंदल में इस तरह से लटका मिला. लोगों का स्पष्ट मानना है कि पहले उनकी हत्या की गई और उन्हें लटका दिया गया. उनका जुर्म क्या था? वह 2019 में बीजेपी में शामिल हो गए थे. ओम शांति.”पश्चिम बंगाल से एक बहुत ही सनसनीखेज खबर सामने आ रही है। देबेन्द्र रॉय का शव सड़क किनारे दुकान में फांसी के फंदे से लटका मिला है। भाजपा का आरोप है कि उन्होंने फांसी नहीं लगाई है उनकी हत्या की गई है।

भारतीय जनता पार्टी के सांसद अर्जुन सिंह ने बड़ा आरोप लगाया है उन्होंने ट्विट कर लिखा है कि

- Sponsored -

सीएम ममता बनर्जी का लोकतंत्र मंत्र।

सीएम बनने के लिए लोकतंत्र की दुहाई देना।

सीएम बने रहने के लिए लोकतंत्र की हत्या करना।

सीएम कोई और न बने, इसके लिए लोकतंत्र के नाम पर तानाशाही करना।

सीएम बनने के योग्य लोगों को पार्टी, रास्ते या दुनिया से हटा देना।

#DemocracyKillerMamata

कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट कर लिखा है कि-

लोकतंत्र को कैसे कुचला जाता है पश्चिम बंगाल की ममता सरकार इसका जीवंत उदाहरण है। राजनीतिक मतभेदों को हिंसक तरीके से दबाया जा रहा है। लेकिन, लोकतंत्र का ये मख़ौल ज्यादा दिन का नहीं है! आखिर ममता राज का फैसला तो जनता ही करेगी।

#DemocracyKillerMamata

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored