सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

उत्तर प्रदेश-योगी सिविल सेवक दो अंतिम लखनऊ

- sponsored -

मुख्यमंत्री ने कहा कि सिविल सेवक यदि अपने दायित्वों का निर्वाह निष्काम भाव से करता है, तो कोई भी उस पर प्रश्नचिन्ह् नहीं लगा सकता है। ऐसे सिविल सेवक जनविश्वास का प्रतीक बनते हैं। सिविल सेवकों को सरकारी योजनाओं को प्रभावी ढंग से लागू करना होता है। ऐसे में निष्काम भाव अत्यन्त आवश्यक है। सभी सिविल सेवकों को शासन की लोककल्याणकारी योजनाओं को जनता तक पहुंचाने के सार्थक प्रयास करने चाहिए।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का उल्लेख करते हुए श्री योगी ने कहा कि उन्होंने ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास’ का दर्शन देते हुए अपनी सभी योजनाएं इस पर केन्द्रित कीं। राज्य सरकार भी श्री मोदी की इस अवधारणा को पूरी तरह आत्मसात किया गया। वर्ष 2017 से पहले उत्तर प्रदेश में जाति, मत, मजहब को आधार बनाकर योजनाएं बनती थीं और इसी आधार पर शासकीय व्यवस्था चलती थी। परन्तु आज ऐसा नहीं है। वर्तमान राज्य सरकार सबके हितों का ध्यान रखते हुए कार्य कर रही है।

Posted at: Nov 21 2020 9:48PM

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -