सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

कोरोना काल में आडंबर से दूर बेहद सादा अंदाज में वधू के घर पर होने लगा विवाह

- Sponsored -

झांसी (सन्मार्ग लाइव) कोरोना वायरस ने देश और दुनिया में न जाने कितनी आधुनिक परंपराओं को समाप्त कर पुराने तौर तरीके दोबारा अपनाने का स्थिति पैदा कर दी है। ऐसा ही कुछ बदलाव भारतीय संस्कृति के तहत विवाह संस्कार में इन दिनों दिखायी देने लगा है।

लॉकडाउन के चलते विवाह घरों में लगे तालों और शादियों के दौरान अपनाये जाने वाले सारे आडंबरों से दूर बेहद सादा अंदाज में मात्र निकट संबंधियों की मौजूदगी में इन दिनों दूल्हा बारात लेकर वधू के घर पहुंचने लगा है और हिंदू संस्कृति के तहत संस्कार माने जाने वाले विवाह समारोह को पूरे विधि विधान से दुल्हन के घर पर ही संपन्न किया जाने लगा है। देशव्यापी लॉकडाउन का असर वैवाहिक कार्यों में भी दिखायी दिया है। प्रशासन की ओर से वर और वधू पक्ष के सीमित लोगों के साथ विवाह संपन्न किये जाने की अनुमति दी जा रही है। इस दौरान बारात घर भी बंद होने के कारण आधुनिक इक्कीसवीं सदी में बारात बेहद सादे अंदाज में वधू के घर जाने लगी है। लंबे समय से भारतीय समाज के लगभग सभी वर्गों में विवाह समारोह वधू पक्ष के घर पर होने की परंपरा तो लगभग दम तोड़ ही चुकी थी । कोरोना के कारण जहां मानव जीवन के लिए बड़े संकट खड़े किये गये हैं वहीं इसके भय ने लोगों को एक बार फिर अपनी पुरानी परंपराओं से जुड़ने का मौका भी दिया है।

Posted at: May 22 2020 9:03PM

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -