सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

कोरोना काल में योग में रूचि बढ़ी

- sponsored -

सहारनपुर 16 सितम्बर (सन्मार्ग) योग एक प्राचीन विज्ञान है और इससे इम्यूनिटी विकसित होती है। रोग प्रतिरोधक क्षमता (इम्यूनिटी). रातो रात बढने वाली ताकत नही है।

जो लोग जमीन से जुडे हुए है उनकी इम्यूनिटी बडे आलीशान मकानों में रहने वाले लोगों से ज्यादा अच्छी है। बाजार के इम्यूनिटी बूस्टर उत्पाद हम लेने लगे तो यह बढ जाएगी, ऐसा नही है हमारे देश में कुछ चीजे रोजमर्रा इस्तेमाल होती है वह सारी चीजे इम्यूनिटी को बढाने में सहायक होती है जैसे नीम के पत्ती, आँवला, हल्दी, दालचीनी, शहद, काली मिर्च, गिलोय, लहुसन, अदरख , सोठ, आदि। योग गुरू गुलशन कुमार ने आज यहां कहा कि प्रात काल यदि कोई दो चम्मच शहद में एक चौथाई चम्मच पिसी काली मिर्च , एक चौथाई चम्मच अदरक का रस का सेवन करे तो नजला, जुकाम व कफ व खांसी तथा गले की खराश मे राहत मिलेगी। दिन में एक बार आँवला का चूर्ण गुनगुने जल से सेवन करे या आंवला मुरब्बा खाये , रात्रि के समय शुद्ध हल्दी मिला दूध ले तो यह बेहतर इम्यूनिटी का अच्छा स्रोत हो सकता है। दालचीनी को पीसकर शहद में मिला कर लेने से खासी बलगम में राहत पायी जा सकती है।

Posted at: Sep 16 2020 12:00PM

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -