सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

चुनाव में ओवैसी और भाजपा के गठबंधन से सावधान रहे बिहार : दिग्विजय सिंह

- Sponsored -

चुनाव में ओवैसी और भाजपा के गठबंधन से सावधान रहे बिहार : दिग्विजय

पटना 14 सितंबर (वार्ता) कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने बिहार की जनता को सांसद असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के गठबंधन से सावधान रहने की हिदायत देते हुए आज कहा कि चुनाव आते ही भाजपा श्री ओवैसी के साथ मिलकर राज्य की जनता को बरगलाना शुरू कर देती है।

- Sponsored -

श्री सिंह ने कांग्रेस की विधानसभावार ऑनलाइल रैली क्रांति महासम्मेलन में सोमवार को गोपालगंज और सीवान जिले के कार्यकर्ता एवं जनता को संबोधित करते हुए कहा कि नाथूराम गोडसे की विचारधारा के खिलाफ पूरे देश में विपक्ष को एकजुट होना होगा। धर्मनिरपेक्ष दलों को एकजुट होकर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) और गोडसे की विचारधारा के खिलाफ लड़ाई लड़नी होगी। उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री एवं जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि लोकनायक जयप्रकाश नारायण के आंदोलन के अपने साथी श्री लालू प्रसाद यादव के साथ सरकार बनाकर उनको भी धोखा दिया है।

कांग्रेस नेता ने बिहार के लोगों को आगाह किया कि चुनाव आते ही भाजपा श्री ओवैसी के साथ मिलकर बिहार में लोगों को बरगलाने का काम शुरू कर देती है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की न्याय योजना के लागू हुए बिना देश में खुशहाली नहीं आ सकती है। इसे अविलंब लागू करने की जरूरत है लेकिन वर्तमान सरकार की नीतियां जनविरोधी हैं।

पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शकील अहमद ने कहा कि इस बार जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बिहार आएंगे तो राज्य की जनता उनसे पूछे कि पिछले पैकेज का कितना पैसा उन्होंने दिया है। उन्होंने हिन्दू हितैषी बनने वाली भाजपा के छलावे को उजागर कर भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) और एयर इंडिया के बंद होने से बेरोजगार होने वाले लोगों का आंकड़ा पेश करते हुए बताया कि सबसे ज्यादा वही समुदाय प्रभावित हो रहा है, जिनकी हितैषी बनने की भाजपा दिखावा करती है।

बिहार कांग्रेस के अध्यक्ष डॉ. मदन मोहन झा ने बिहार के गन्ना किसानों और चीनी मिलों के दुर्दशा को रेखांकित करते हुए कहा कि 80 करोड़ रुपये आज भी गोपालगंज के किसानों को डूबा हुआ है। गोपालगंज में शिक्षा व्यवस्था बदहाल हो गई है। उन्होंने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार खुद के घोषणा पत्र और आश्वासनों को देखकर सोचते होंगे कि वह जनता से कितना झूठ बोलते हैं।
उत्तराखंड कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष पंडित किशोर उपाध्याय ने कहा कि देश को बेचने पर आमादा केंद्र की मौजूदा सरकार के खिलाफ बिहार के लोग एकजुट होकर संघर्ष करें। बिहार देश की राजनीति की दशा और दिशा निर्धारित करती है। उन्होंने बिहार की वर्तमान नीतीश सरकार को घेरते हुए कहा कि उनकी नीतियां जनकल्याणकारी नहीं रही। कांग्रेस के एक-एक जन को वर्तमान सत्ता के खिलाफ एकजुट होकर संघर्ष का रास्ता चुनना होगा।
कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता अमृता धवन ने कहा कि बिहार का चुनाव आने वाली राजनीति को प्रभावित करेगा। केवल श्री राहुल गांधी एवं श्रीमती सोनिया गांधी ही केंद्र की वर्तमान सरकार की नीतियों के खिलाफ मुखर होकर आवाज बुलंद कर रहें हैं, वरना देश में वर्तमान सरकार के खिलाफ बोलने की किसी में ताकत नहीं है। उन्होंने श्री नीतीश कुमार पर हमला बोला और कहा कि खुद को योद्धा बताने वाले बिहार के मुख्यमंत्री कोरोना काल में क्वारंटाइन हो गए हैं। बिहार के लोगों को ऐसे डरे हुए योद्धा नहीं चाहिए। बिहार में शिक्षक, आंगनबाड़ी कर्मी और युवा सड़कों पर आंदोलनरत हैं, उनकी कोई सुनवाई इस असंवेदनशील सरकार में नहीं है।
इस ऑनलाइन कार्यक्रम में दिल्ली मंच से कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव सह बिहार प्रभारी अजय कपूर, अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष नदीम जावेद, राज्यसभा सांसद डॉ. अखिलेश प्रसाद सिंह तथा पटना मंच से विधान पार्षद समीर कुमार सिंह, उपाध्यक्ष श्याम सुंदर सिंह धीरज, संगठन महासचिव ब्रजेश पांडेय, प्रवक्ता राजेश राठौड़, इंटक अध्यक्ष चंद्र प्रकाश सिंह, अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष मिन्नत रहमानी समेत कई अन्य कांग्रेस नेता भी जुड़े रहे।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -