सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

त्योहारों पर बादाम हैं बेहतर उपहार

- sponsored -

नयी दिल्ली: कोरोना वायरस ‘कोविड-19’ संक्रमण के इस जोखिम भरे दौर में त्योहारों पर उपहार के रूप में बादाम भी भेंट किये जाने की विशेषज्ञों और सेलेबिट्रीज ने सलाह दी है। विशेषज्ञों का मानना है कि भाई-बहन के बीच अगाध प्यार के प्रतीक एवं पवित्र त्योहार रक्षाबंधन पर अन्य उपहारों के साथ बादाम महामारी के इस दौर में बहुत उपयुक्त भेंट हो सकते हैं। उनका मानना है कि कई पोषक तत्वों से भरपूर होने के साथ बादाम रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में बहुत मददगार हैं। बादाम वजन बढ़ने से रोकने में कारगर होने के साथ-साथ मधुमेह जैसी बीमारी को नियंत्रित करने में सहायक होते हैं।मैक्स हेल्थकेयर दिल्ली में डायटेटिक्स की क्षेत्रीय प्रमुख ऋतिका समद्दर ने कहा, ‘‘रक्षाबंधन पर हममें से कई लोग अपने प्रियजनों के साथ उपहार के तौर पर मिठाइयों का आदान-प्रदान करते हैं लेकिन इस बार हम नये नॉर्मल में जी रहे हैं और त्योहार को अलग तरीके से मनाने की तैयारी कर रहे हैं, तो हमें उपहारों के बारे में भी सोचना चाहिए। कई लोग घरों में रहकर काम कर रहे हैं, इसलिए मोटापा और डायबिटीज जैसे लाइफस्­टाइल रोग बढ़ रहे हैं। बादाम जैसे स्वास्थ्यकर उपहार को चुनकर हम अपने भाई/बहन के जीवन में सकारात्मक योगदान दे सकते हैं। शोध से पता चला है कि बादाम प्रोटीन और डाइटरी फाइबर का स्रोत होते हैं और ब्­ल्­ड शुगर के स्तर को बनाये रखने में मदद कर सकते हैं, टाइप-2 डायबिटीज वाले लोगों में ब्­ल्­ड शुगर नियंत्रण को बेहतर बना सकते हैं और कार्बोहाइड्रेट डाइट से प्रभावित ब्­ल्­ड शुगर को कम कर सकते हैं, जो भूखे पेट के इंसुलिन लेवल का प्रभावित करते हैं। इसलिये बादाम को उपहार बनाकर रक्षाबंधन का महत्व बढ़ाएं। बादाम रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाते हैं। बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री सोहा अली खान ने कहा, ‘‘मैं हमेशा सोच-समझकर उपहार देती हूं, क्योंकि वे उत्सव को खास बनाते हैं। इस साल के रक्षाबंधन पर मैं अपने भाई और चहेतों को जो दूंगी, उनमें बादाम शामिल हैं। बादाम में विटामिन ‘ई’, मैग्नीशियम, प्रोटीन, रिबोफ्लेविन, ंिजक आदि कई न्­यूट्रिएंट्स होते हें जो उन्हें पौष्टिक और स्वादिष्ट बनाते हैं। इनसे लंबे समय तक सेहत को लाभ पहुंचता है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -