सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

दिल्ली विधानसभा चुनाव के बाद होगा झारखंड भाजपा अध्यक्ष का चुनाव, गिलुवा के इस्तीफा पर फैसला सुरक्षित

- sponsored -

रांची : झारखंड प्रदेश भारतीय जनता पार्टी फिलहाल अपने पुराने अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुआ के नेतृत्व में ही काम करेगी। दरअसल, गिलुआ के इस्तीफे पर आलाकमान ने फैसला सार्वजनिक नहीं किया है।

बता दें कि वर्तमान इकाई के तीन साल का कार्यकाल नवंबर 2019 में ही पूरा हो गया था। झारखंड में हुए विधानसभा चुनाव और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के चयन की प्रक्रिया पूरी नहीं होने के कारण पार्टी ने संगठनात्मक चुनाव को लंबित रखा था।

अब राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की ताजपोशी हो चुकी है। प्रदेश अध्यक्ष के चयन की प्रक्रिया शुरु होने वाली थी लेकिन सूत्रों से मिल रही खबर में बताया गया है कि गिलुआ फिलहाल अध्यक्ष पद पर बने रहेंगे क्योंकि भाजपा की पूरी ताकत दिल्ली चुनाव में लग रही है। अब झारखंड अध्यक्ष का फैसला दिल्ली के चुनाव के बाद ही संभव हो पाएगा।

- Sponsored -

जानकारी के अनुसार, दिल्ली विधानसभा चुनाव के बाद फरवरी में झारखंड में प्रदेश अध्यक्ष समेत नेता प्रतिपक्ष के चयन की प्रक्रिया पूरी की जायेगी। सूत्रों के अनुसार, इस बार पार्टी में बड़े फेरबदल की तैयारी चल रही है। जनवरी में हुए विधानसभा सत्र के दौरान भाजपा ने नेता प्रतिपक्ष का चयन नहीं किया था। सत्र के दौरान विधायकों की तीन सदस्यीय कमेटी गठित कर उन्हें निर्णय लेने की जिम्मेवारी सौंपी थी।

इधर, चर्चा है कि झाविमो के केंद्रीय अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी भी भाजपा के शीर्ष नेताओं के संपर्क में हैं। झाविमो के भाजपा में विलय को लेकर भी कवायद चल रही है। चर्चा है कि मरांडी के भाजपा में आने के बाद उन्हें बड़ी जिम्मेवारी सौंपी जाएगी। विधानसभा चुनाव में संतोेषजनक परिणाम नहीं आने पर पहले ही अपनी जिम्मेवारी लेते हुए वर्तमान अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा ने पद से इस्तीफा दे दिया है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored