सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

मुजफ्फरपुर आश्रय गृह यौन शोषण मामला, 20 जनवरी तक टला फैसला

- Sponsored -

रांची : मुजफ्फरपुर आश्रय गृह मामले में दिल्ली की अदालत ने 20 जनवरी तक फैसले को टाल दिया है। मुजफ्फरपुर स्थित आश्रय गृह में कई लड़कियों के कथित यौन शोषण के मामले में दिल्ली की साकेत कोर्ट को मंगलवार को अपना फैसला सुनाना था। इस केंद्र का संचालक बिहार पीपुल्स पार्टी के पूर्व विधायक ब्रजेश ठाकुर करते थे। अदालत ने पहले आदेश एक महीने के लिए 14 जनवरी तक टाल दिया था। अब इस मामले को अदालत ने 20 जनवरी तक के लिए टाल दिया है।

इससे पहले अदालत ने नवंबर में फैसला एक महीने के लिए टाल दिया था। तब तिहाड़ केंद्रीय जेल में बंद 20 आरोपियों को राष्ट्रीय राजधानी की सभी छह जिला अदालतों में वकीलों की हड़ताल के कारण अदालत परिसर नहीं लाया जा सका था। अदालत ने 20 मार्च, 2018 को ठाकुर समेत आरोपियों के खिलाफ आरोप तय किये थे। आरोपियों में आठ महिलाएं और 12 पुरुष हैं।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -