सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

मॉनसून में ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने के लिए खाएं ये चीजें

- Sponsored -

बरसात के मौसम में बार-बार तेजी से बदलता मौसम शारीरिक और मानसिक परेशानियां बढ़ाने का काम करता है। ऐसे में स्वस्थ लोगों को भी कभी-कभी ब्लड प्रेशर और सांस से जुड़ी समस्या हो जाती है। इसलिए उन लोगों को तो अपना अधिक ध्यान रखने की जरूरत है, जिन्हें हाई ब्लड प्रेशर की दिक्कत अक्सर बनी रहती है। आइए, यहां जानते हैं कि मॉनसून के सीजन में हाईबीपी के शिकार लोगों को ऐसा क्या खाना चाहिए ताकि उन्हें अपने ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने में सहायता मिले साथ ही शरीर को जरूरी पोषण भी मिलता रहे…
पहले करते हैं प्रमुख फलों की बात : हाई बीपी के मरीजों को बरसात के मौसम में जिन फलों का सेवन अवश्य करना चाहिए, उनमें ये 4 मुख्य फल प्रमुखता के साथ शामिल हैं। जैसे, आड़ू, आलूबुखारा, जामुन और सेब। इनमें से कुछ फल मुख्य रूप से बरसात के मौसम में ही मिलते हैं। इसलिए मौसमी फलों का लुत्फ आपको जरूर उठाना चाहिए। ये मौसमी फल आपको केवल हाईबीपी की समस्या से ही नहीं बचाएंगे बल्कि मौसमी बीमारियों और संक्रमण से भी आपकी सुरक्षा करेंगे। जामुन का सेवन उन लोगों के लिए अधिक फायदेमंद होता है, जिनको बीपी के साथ ही शुगर की समस्या भी हो। क्योंकि शुगर को नियंत्रित करने में जामुन एक कारगर औषधि है।
अब आते हैं सब्जियों पर : मॉनसून के मौसम में पत्तेदार सब्जियों के सेवन को सीमित रखना चाहिए। क्योंकि इस मौसम में पत्तेदार सब्जियों पर कीट और कीड़े लगने लगते हैं। इसलिए इन कीटों से सब्जी को नुकसान से बचाने के लिए ज्यादातर जगहों पर रासायनिक पदार्थों का उपयोग किया जाने लगा है, जो कि इन सब्जियों के जरिए हमारे शरीर में पहुंचते हैं। इसलिए अगर आप पत्तेदार सब्जी का उपयोग कर भी रहे हैं तो उसे गर्म पानी में अच्छी तरह धुलकर ही बनाएं। साथ ही इस सब्जी को बनाते समय अच्छी तरह पकाएं। ताकि इसमें किसी तरह के बैक्टीरिया, फंगस और रसायन (गर्म पानी से धुलने पर) के बचने की संभावना ही ना रहे।
पानी की प्रचुर मात्रा : बरसात के मौसम में चिपचिपाहट और ह्यूमिडिटी के कारण अक्सर मन बेचैन रहता है, जो कई बार ब्लड प्रेशर के बढ़ जाने की वजह भी बन जाता है। इस स्थिति से बचने के लिए जरूरी है कि आप अपनी नियमित दिनचर्या में पानी का पर्याप्त मात्रा में सेवन करें। पानी पीने के लिए प्यास लगने का इंतजार ना करें। बल्कि हर घंटे कम से कम 1 गिलास पानी जरूर पिएं। पानी पीने के साथ ही इस बात का भी ध्यान रखें कि पानी पूरी तरह साफ और स्वच्छ होना चाहिए। क्योंकि बरसात के मौसम में होनेवाली ज्यादातर बीमारियां दूषित पानी के कारण ही होती हैं। जैसे पीलिया, डायरिया आदि।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored