सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

हेमंत सोरेन सरकार ने झारखंड को दस साल पीछे धकेल दिया : जयंत सिन्हा

- Sponsored -

हजारीबाग : हजारीबाग सांसद सह पूर्व केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा ने कहा कि पूर्व में रघुवर दास की सरकार ने जितनी भी जन हितकारी योजनाओं को धरातल पर उतारा था, उस पर अब ग्रहण लग गया है। बिजली, पानी, सड़क, स्वास्थ्य और विधि व्यवस्था के क्षेत्र में राज्य की स्थिति बेहद चिंताजनक है। हेमंत सरकार ने झारखंड को दस वर्ष पीछे धकेल दिया है। सड़कें जर्जर हो चुकी है और बिजली वितरण की व्यवस्था भी पूरी तरह से चरमरा गयी है। तेल की भी आपूर्ति भी बिजली विभाग नहीं कर पा रहा है। भाजपा की शासनकाल में विकास की राजनीति हो रही थी अब विनाश की राजनीति हो रही है। दिशा की बैठक में स्वास्थ्य, शिक्षा, रोजगार, बिजली, सामाजिक सुरक्षा व पीएम आवास को लेकर संबंधित अधिकारियों को दिये गये दिशा-निर्देश की जानकारी देते हुए श्री सिन्हा ने कहा कि विकास कार्यक्रमों में पारदर्शिता लाने की जरुरत है। श्री सिन्हा ने हजारीबाग संसदीय क्षेत्र की प्रमुख समस्याओं को लेकर उठाये गये कदम और कृषि सुधारों के दो विधेयकों कृषक उपज व्यापार और वाणिज्य संवर्धन व सरलीकरण विधेयक पारित होने से किसानों के साथ देश को बड़ा लाभ होने वाला है। इस विधेयक को पारित करवा कर केंद्र सरकार ने क्रांतिकारी कदम बढ़ाया है। श्री सिन्हा ने कहा कि किसान बिल को लेकर राज्य सभा में जो कुछ भी हुआ वह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है। सदन चलाने में सत्ता पक्ष ने आदर्श तरीके से अपने दायित्वों का निर्वाह तो किया लेकिन विपक्ष अपनी जिम्मेवारियों से भागते हुए अलोकतांत्रिक तरीेके से कार्रवाई बाधित करने का प्रयास किया। दिशा की बैठक में लिये गये निर्णय व अधिकारियों को दिये निर्देश के बाबत जाानकारी देते हुए श्री सिन्हा ने कहा कि जिले में कोरोना की रोकथाम हेतू हर संभव कदम उठाए जा रहे हैं। क्षेत्र में कोरोना की जांच को प्रतिदिन बढ़ाया जा रहा है।
हजारीबाग में 58,862 सैंपलों की हुई जांच, 55 325 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव
हजारीबाग में 62,500 से अधिक कोरोना सैंपल लिए गए हैं जिनमें से 58,862 सैम्पलों की जांच की गई है, जिनमें 55,325 लोगों की जांच नेगेटिव आयी है। हजारीबाग में अभी तक 1,800 से अधिक लोग कोरोना से ठीक होकर घर लौट गए हैं व होम आइसोलेशन में अभी कुल 16 लोग हैं। जयंत सिन्हा ने कहा कि ये ईश्वर की कृपा और कोरोना वारियर्स की निष्ठा का सुफल है कि हजारीबाग जिले में आज कोई भी कोरोना संक्रमित वेंटिलेटर पर नहीं है। उन्होंने प्रशासन को इम्यूनाइजेशन (टीकाकरण) प्लान निर्धारित करने को कहा ताकि कोरोना की वैक्सीन आते ही क्षेत्रवासियों को उसका अधिक से अधिक लाभ मिल सके। जयंत सिन्हा समय-समय समीक्षा बैठक कर क्षेत्र में स्वास्थ्य सुविधाओं जैसे उपलब्ध बेड, मरीजों को मिल रहीं सुविधाएं, दवाओं की उपलब्धता समेत कोरोना योद्धाओं से बातचीत कर जानकारी लेते रहते हैं। सदर अस्पताल में जो कमियां हैं उनको दुरुस्त करने के लिए निरंतर प्रयासरत हैं, राज्य सरकार से कर रहे हैं आग्रह।
‘रोजगार’
जयंत सिन्हा ने कहा कि हजारीबाग में 30,000 प्रवासी मजदूरों की सूची बनाई गई है जिनमें से 26,000 लोगों को जॉब कार्ड व 9,676 लोगों को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान व मनरेगा के तहत रोजगार उपलब्ध करवाया गया है।ह्णशिक्षाह्ण सामाजिक कल्याण, आधारिक संरचना पर केंद्र सरकार ने सााहसिक कदम उठाया है। राज्ज सरकर अगर ईमानदारी से अपने दायित्वों का निर्वाह करती तो यह हालात देखने को नहीं मिलते। भाजपा के जिलाध्यक्ष अशोक यादव ने बड़कागांव- केरेडारी प्रखंड में एनटीपीसी व त्रिवेणी के खिलाफ जारी आंदोलन व विस्थापितों व रैयतों की मांगों को लेकर गठित कमेटी में सांसद को नहीं रखने के मामले को उठाया।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -