सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

परंपरा के अनुसार छठ पूजा में मिट्टी चूल्हा पर प्रसाद बनाने का महत्व है

According to tradition, the importance of making prasad on the clay stove is important in Chhath Puja

- sponsored -

सन्मार्ग(लाइव 7)रांची17 नवंबर 2020 by-kiran

परंपरा के अनुसार छठ पूजा में मिट्टी चूल्हा पर प्रसाद बनाने का महत्व है।  आम की लकड़ी से छठ का प्रसाद बनाया जाता है। छठमहापर्व  के  शुभ अवसर पर काफी ज्यादा संख्या में मिट्टी का चूल्हा बनाने लगे हैं लोग पटना शहर की भिन्न भिन्न जगहों पर सड़कों के किनारे बनने लगा है वहीं पर देखा जाए तो पार्टी कार्यालय सड़क के किनारे मिट्टी का चूल्हा बनाते हुए दिखे जब उनसे पूछा गया कि मिट्टी का चूल्हा छठ पूजा को लेकर क्यों बनाते हैं तो मिट्टी का चूल्हा बनाकर बाजार में बेचा करते हैं साथ ही साथ उन्होंने कहा कि छठ पूजा को लेकर मिट्टी का चूल्हा बनाया जाता है इसलिए कि छठ पर्व को लेकर जो प्रसाद बनती है उसे शुभ माना जाता है और यह चूल्हा बालू मिट्टी मिलाकर बनती है सारा दिन काम धाम छोड़कर मिट्टी का चूल्हा बनाने में लग जाते हैं और बनाकर इसे बाजार में बेचते हैं पिछले साल चूल्हा का कीमत ₹60 से ₹70 तक बेचते थे लेकिन पिछले साल की अपेक्षा इस साल में चुल्ला का कीमत 300 से ₹400 जोड़ा बेचने का काम करेंगे इसलिए पिछले साल के अपेक्षा इस साल में काफी महंगाई बढ़ गई है इसलिए कीमत बढ़ाकर बेचेंगे एक एक चूल्हा व्यवसाय 100 100 पीस खरीद कर ले जाते हैं और वह बाजारों में बेचा करते हैं

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored