सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

आखिर सीएम से क्यूं मिले सरेंडर करने वाले नक्सलियों के परिजन ?

- sponsored -

झारखंड में उग्रवादी समर्पण नीति के तहत सरेंडर करने वाले उग्रवादियों को सरेंडर नीति के तहत राहत नहीं मिल रही है। हजारीबाग ओपन जेल में बंद 33 पूर्व नक्सलियों के परिजन मुख्यमंत्री आवास पहुचे है। सरेंडर कर चुके उग्रवादियों के परिजनों की मांग है कि कई बंदी ओपन जेल में बीते चार- पांच सालों से बंद हैं। समर्पण नीति में जिक्र है कि समर्पण करने वाले उग्रवादियों पर दर्ज मामलों का निष्पादन फास्ट ट्रैक कोर्ट गठित कर किया जायेगा। लेकिन ऐसा हो नहीं रहा है। पूर्व उग्रवादियों के परिजनों ने मांग की है कि सरेंडर कर चुके उग्रवादियों पर दर्ज सारे मामले फास्ट ट्रैक कोर्ट गठित कर सुनाई जाएं, ताकि मामलों का तत्काल निष्पादन हो सके।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -