सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

गुस्साई आशा कार्यकर्ताओं ने डॉ अशोक कुमार का फूंका पुतला

- sponsored -

नवादा। 30 नवम्बर को जिला प्रतिरक्षण कार्यालय द्वारा डॉ अशोक कुमार ने वारिसलीगंज पीएचसी प्रभारी को मिशन इंद्रधनुष 2 में सहयोग नहीं करने वाली आशा व फैसिलिटेटर पर एफआईआर करने का आदेश जारी किया है। जिसको लेकर गुस्साई आशा ने सोमवार को स्थानीय पीएचसी में कार्यरत सैकड़ों आशा एवं फैसिलिटेटर एकत्रित होकर डॉ अशोक कुमार का पुतला फूंका। इससे पहले आशा स्वास्थ्य कार्यकर्ता संघ वारिसलीगंज इकाई के बैनर तले प्रखंड अध्यक्ष सरिता कुमारी के नेतृत्व में जमकर हंगामा किया। इस दौरान आशा के सम्मान के साथ खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं होगा, आशा का शोषण बंद करो, दंडात्मक कार्रवाई नहीं चलेगी, डीआईओ होश में आओ आदि के नारे लगाए। पुतला दहन पश्चात प्रखंड अध्यक्ष सरिता कुमारी ने कही कि आशा द्वारा लगभग 10 दिन पूर्व ही आंदोलन की घोषणा करते हुए स्वास्थ्य योजनाओं के बहिष्कार की सूचना सिविल सर्जन समेत डीएम को दी जा चुकी है। उस पर डीआईओ द्वारा दंडात्मक कार्रवाई करते हुए आशा को डराकर आंदोलन को दबाने का कार्य किया जा रहा है। मौके पर रानी कुमारी, पुष्पा कुमारी, सोनम कुमारी, ललिता कुमारी, मंजू कुमारी, माला, अनिता, बिंदी वर्मा, माया देवी, सुनैना कुमारी,गुलशन, नीतू कुमारी समेत सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित थे।
इस संबंध में जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डाॅ अशोक कुमार से जब बात की गई तब उन्हांेने बताया कि मिशन इन्द्रधनुष केन्द्र सरकार की एक महत्वाकांक्षी योजना है। इस टीकाकरण से बच्चों व गर्भवती महिलाओं की जान की रक्षा होगी। उन्होंने कहा कि वैसे कार्य में आशा कार्यकर्ताओं द्वारा बाधा उत्पन्न करना उचित नहीं है। इस कार्य के लिए आशा ही नहीं बल्कि सामाजसेवियों व जनप्रतिनिधियों से सहयोग करने की अपील की गई है। उन्होंने कहा कि मैं वारिसलीगंज के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी के द्वारा सूचना दी गई कि आशा कार्यकर्ता मिशन इन्द्रधनुष कार्यक्रम का बहिष्कार कर रही है। उसके बाद मैनंे प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी से बात कर कहा गया कि इस महत्वाकांक्षी कार्यक्रम में जो भी आशा कार्य नहीं करती है वैसे आशा के विरूद्ध न्याय संगत कार्रवाई करें।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -