Sanmarg Live
Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, : Sanmarg Live, Morning India, Aawami News
BREAKING NEWS


{"effect":"slide-h","fontstyle":"bold","autoplay":"true","timer":"4000"}

Looks like you have blocked notifications!

कांग्रेस नेता तारिक अनवर पहुंचे बाढ़, कांग्रेस मैदान में हुआ भव्य स्वागत

बाढ़ में निकट भविष्य में होने वाली बिहार विधानसभा चुनाव के मद्दे नजर क्षेत्र भ्रमण को निकले कांग्रेस नेता और पूर्व मंत्री तारिक अनवर को बाढ़ के कांग्रेस मैदान पहुंचते ही कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने फूल मालाओं से लादकर भव्य स्वागत किया और जमकर जिंदाबाद के नारे लगाये।

3

- sponsored -

- Sponsored -

अनिल कुमार, संवाददाता

पटनाः- जिले के बाढ़ में निकट भविष्य में होने वाली बिहार विधानसभा चुनाव के मद्दे नजर क्षेत्र भ्रमण को निकले कांग्रेस नेता और पूर्व मंत्री तारिक अनवर को बाढ़ के कांग्रेस मैदान पहुंचते ही कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने फूल मालाओं से लादकर भव्य स्वागत किया और जमकर जिंदाबाद के नारे लगाये। इस मौके पर प्रेस को संबोधित करते हुए कांग्रेस नेता तारिक अनवर ने एनआरसी, एनआरपी और सीएए जैसे ज्वलंत मुद्दों पर केंद्र सरकार को आड़े हाथों लेते हुए खुलकर बातचीत की।

- Sponsored -

- sponsored -

उन्होंने कहा कि जब बच्चे नारा लगाते हैं कि ‘लेकर रहेंगे आजादी’ !तो सरकार सवाल उठाती है कि -‘किस बात की आजादी? यदि बीजेपी और आरएसएस के लोग आजादी की लड़ाई में कोई भूमिका निभाए होते तो, वे लोग ऐसे सवाल नहीं करते! केंद्र सरकार को आजादी का अर्थ ही समझ में नहीं आता है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार जो भी बिल लाती थी, तो सबों को विश्वास में लेकर लाती थी। जबकि इस सरकार ने सीएए लाने के पहले वैसा नहीं किया! इस बिल पर जिस तरह देश में भूचाल आया हुआ है, उस भूचाल को रोकने के लिए हम सरकार से मांग करते हैं कि या तो इस बिल में सुधार लायें ,या इसे वापस ले।

उन्होंने यहां तक कहा कि इस बिल का विरोध एनडीए सरकार के पूर्व साथी जैसे अकाली दल भी कर रहे हैं। साथ ही कई राज्यों के सरकारों ने इस बिल को अपने राज्य में लागू करने की पहल को सिरे से खारिज कर दिया है। जब उनसे पूछा गया कि सीएए तो पहले कांग्रेस के द्वारा ही लाया गया था, फिर इस पर हाय-तौबा क्यों? इस सवाल के जवाब में कांग्रेस नेता तारिक अनवर ने कहा कि कांग्रेस की सोंच और बीजेपी की सोंच में बहुत अंतर है।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored