Sanmarg Live
Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, : Sanmarg Live, Morning India, Aawami News

साइकिल से चलने वाले पत्रकार हो जाएं सावधान, सदमे में डूबी बिक्रमगंज पुलिस, उठ रहे कई सवाल

भारत के प्रधानमंत्री ने पूरे देश मे सुरक्षा व्यवस्था को लेकर 21 दिनों का लॉक डाउन लगा रखा है। कोरोना वायरस  की भयवाहता से समाज का हर तबका सहमा हुआ है। इससे बचाव के लिए सुरक्षित रहिये घर मे रहिये के सिवा दूसरा को कोई विकल्प नही बचा है। इस समय देश के प्रधानमंत्री जहां मीडिया को धन्यवाद देते हुए आभार प्रकट कर रहें हैं।

243

दुर्गेश किशोर तिवारी की रिपोर्ट

रोहतासः- भारत के प्रधानमंत्री (PM) ने पूरे देश मे सुरक्षा व्यवस्था को लेकर 21 दिनों का लॉक डाउन लगा रखा है। कोरोना वायरस  की भयवाहता से समाज का हर तबका सहमा हुआ है। इससे बचाव के लिए सुरक्षित रहिये घर मे रहिये के सिवा दूसरा को कोई विकल्प नही बचा है। इस समय देश के प्रधानमंत्री जहां मीडिया को धन्यवाद देते हुए आभार प्रकट कर रहें हैं। तो वही बिक्रमगंज की पुलिस साइकिल से चलने वाले पत्रकार को परिचय पत्र दिखाने के बाद भी पत्रकार नही मान रही।

बिक्रमगंज पुलिस के नजर में मोटरसाइकिल से चलने वाला ही पत्रकार है। जी हां यह सच है बता दे कि  पिछले दिन बुधवार को करीब दोपहर के आसपास एक दैनिक समाचार पत्र के वरीय पत्रकार कभी अतिव्यस्त रहने वाला बिक्रमगंज के प्रमुख तेंदुनी चौक पर लॉक डाउन का जायजा लेने अपने साइकिल से जा पहुंचे। उन्होंंने देखा की एक छोर पर बगैर मजिस्ट्रेट के कुछ पुलिसकर्मी आराम से बैठकर आवागमन पर अपनी पैनी निगाहे गड़ाए सड़क को निहार रहे थे। तो वही दूसरी छोर पर कुछ अनावश्यक बाइकसवार लोग खड़े थे। एक पथ कुछ मिनटों के लिए सुनी नजर आया। जिसका तस्वीर उक्त पत्रकार ने अपने मोबाइल के कैमरे से कैद करने का प्रयास किया।

- sponsored -

- Sponsored -

इसी बीच आराम से डियूटी पर तैनात एक पुलिस पदाधिकारी धमक गए और पूछताछ शुरू कर दिया। सहजता से उक्त पत्रकार ने अपना परिचय पत्र दिखाया। तब दरोगा जी को शॉक लग गया और आश्चर्यचकित होकर बोले पत्रकार और साइकिल से। इस बीच उक्त पत्रकार ने बताया कि मेरी यही पहचान है और मैं करीब दो दशक से साइकिल से ही भ्रमण कर अपने कर्तव्य और दायित्वों का इमानदारी पूर्वक निर्वाह करते आ रहा हूं। मेरी इतनी कमाई नही होती कि अन्य वाहन का इस्तेमाल कर सके।

हालांकि उक्त पुलिस ने पत्रकार के साथ कोई अमर्यादित भाषा का प्रयोग नही किए और नही किसी प्रकार का अभद्र दुर्व्यवहार किया। लेकिन “पत्रकार और साइकिल से” यह कई सवालों को जन्म दे रहा है। सूत्रों कि माने तो उक्त पुलिस पदाधिकारी का नाम श्याम रजक बताया जाता है जो बिक्रमगंज थाना में पदस्थापित है।

ये भी पढ़ेंः- दानापुर में वीरों के सम्मान में लोगों ने बजाई थाली और शंख

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -

%d bloggers like this: