सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

बेरोजगारी भत्ता वर्तमान समय की मांग, जल्द निर्णय ले सरकार- अब्दुल जब्बार

Demand for unemployment allowance at present

- Sponsored -

रांची : अखिल झारखंड छात्र संघ (आजसू) के प्रदेश वरीय उपाध्यक्ष अब्दुल जब्बार ने वर्तमान के युवाओं की मनोदशा, रोजगार के सीमित होते अवसर एवं उनके भविष्य को लेकर चिंता जाहिर की है। उन्होंने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा कि वर्तमान कोरोना संक्रमण ने युवाओं से उनके एक वर्ष को छीन लिया है। अध्यन के सारे संस्थान बंद है, रोजगार सृजन ठप है परंतु युवाओं की उम्र अपने ही रफ्तार से आगे बढ़ रही है। निजी क्षेत्र में भी रोजगार सीमित होते जा रहे है। वर्तमान की हमारी राज्य सरकार जो युवाओं से कई वादे करके ही सत्ता में पहुंची है, सत्ता में आते ही युवाओं के प्रति गंभीर नही दिख रही है। वर्तमान में राज्य के मुखिया ने चुनाव पूर्व युवाओं से वादा किया था कि वह युवाओं को सालाना 72000 रु. बेरोजगारी भत्ता देंगे। युवाओं से किये गए वादे को पूर्ण करने का यह उपयुक्त समय है क्योंकि आज सभी युवाओं के पारिवारिक आय में कमी आयी है।

सरकार युवाओं से किये वादे पर यू टर्न ले रही हैआजसू

उन्होंने कहा कि सरकार गठन के उपरांत से ही यह सरकार युवाओं से किये वादे पर यू टर्न ले रही है चाहे जेपीएससी का मामला हो, रोजगार का मामला हो या बेरोजगारी भत्ता देने का मामला हो। सरकार को चाहिए कि वो युवाओं से किये वादे के अनुसार बेरोजगारी भत्ता दे जिससे युवा अपने अध्यन्न कार्य एवं अन्य आवश्यकताओं को पूर्ण कर सकें। उन्होंने आगे कहा कि आजसू मानती है कि जब तक युवाओं के वर्तमान एवं भविष्य को सुरक्षित नही किया जाएगा तब तक राज्य में विकास करने के फर्जी ढोल को युवा सरकार बदलकर फाड़ते रहेंगे। आजसू मुख्यमंत्री महोदय युवाओं से किये गए वादों को भूलने नही देगी और आवाज तब तक मुखर करती रहेगी जब तक युवाओं से किये गए वादों को सरकार पूर्ण नही कर देती है।

- Sponsored -

रिपोर्ट- मनीष झा

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -