सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

खरना के साथ भक्तिमय हुई राजधानी, अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य कल 

Devotional capital with Kharna, Archal tomorrow to Asthachalagami Surya

- sponsored -

रांची: चार दिवसीय महापर्व छठ के लिए गुरुवार को खरना संपन्न होते हुए राजधानी रांची समेत पूरा राज्य भक्तिमय हो गया है। व्रतियों ने नेम-धरमपूर्वक खीर बनाकर ग्रहण किया। लोग अपने संबंधियों और परिचितों के घर जाकर खरना का प्रसाद ग्रहण किया और आर्शिवाद लिया। शुक्रवार को अस्ताचलगामी सूर्य को पहला अर्घ्य दिया जाएगा, जबकि शनिवार को उदीयमान सूर्य को अर्घ्य देने के साथ महापर्व छठ का समापन होगा। इधर छठ पर्व को लेकर राजधानी रांची समेत पूरे राज्य में काफी गहमागहमी रही। बाजारों में लोग छठ पर्व के लिए विभिन्न प्रकार के फलों की खरीदारी करते दिखे। राजधानी में मुख्य रूप से जिला स्कूल मैदान, बकरी बाजार, बहु बाजार, पिस्का मोड़, हरमू बाजार, कचहरी, नागा बाबा खटाल समेत कई स्थानों पर सुप, दऊरा, केले की कांधी, सेव, संतरा, मूली, सुथनी, कच्चा हल्दी, पानी फल सिंघाड़ा, नारियल, मेवा समेत अन्य पूजन सामग्रियों की बिक्री हुई।
क्या है अर्घ्य का समय
भगवान भुवन भास्कर को पहला अर्घ्य शुक्रवार को दिया जाएगा। शुक्रवार की शाम 05.04 बजे अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य दिया जाएगा। शनिवार को अंतिम अर्घ्य सुबह 06.7 बजे दिया जाएगा।
बाजार में क्या है फलों की कीमत
केला- 400-700 रुपए प्रति कांधी
सेव (अमेरिकन)- 450-550 रुपए प्रति पेटी
संतरा- 600-650 रुपए प्रति पेटी
नारियल- 600- 650 रुपए प्रति बोरा
ईख- 150-200 रुपए में पांच का बंडल

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -