सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

लगातार हो रहे बारिश से तालाब का बांध टूटा, घरों व कई दुकानों के अंदर घुसा पानी

Due to continuous rains, the dam of the pond was broken

- sponsored -

बोकारो : जिला के गोमिया के होसिर गांव स्थित साढ़े ग्यारह एकड़ में फैले बड़का अहरा तालाब का बांध लगातार हो रहे बारिश से पूरी तरह भर जाने से बढ़े दबाव के कारण टूट गया। तालाब टूटने पर पानी की धारा इतनी तेज थी कि आसपास के घरों व मार्केट के कई दुकानों के अंदर तक पानी घुस गया, तेज बहाव ने कुछ कृषि युक्त खेतों को भी नुकसान पहुंचाया है।

तालाब से बह गया लाखों रुपये का मछली जीरा

इस दौरान तालाब को मछली व्यापार के लिए लीज में लेने वाले अशोक कुमार केवट ने सहयोगियों के साथ मिलकर टूटे बांध के मुहाने पर बालू की बोरियां रखकर पानी व बह रही मछलियों को रोकने का असफल प्रयास किया। मछली व्यापारी ने बताया कि रोजगार के लिए मत्स्य विभाग से 14 हजार 5 सौ रुपए सलाना में लीज लेकर कुल 4 लाख रुपये की लागत का मछली जीरा 2019 में ही 5 क्विंटल व 2020 में 3 क्विंटल तालाब में डाला था जो देखते-देखते बह गया।

- Sponsored -

व्यवसायियों को हजारों की क्षति

वहीं व्यापारी ने हुए नुकसान की भरपाई के लिए तथा छीन गए रोजगार के कारण बच्चों की परवरिश के लिये सरकार से मदद की गुहार लगाई। ग्रामीणों ने बताया कि दो वर्ष पूर्व तत्कालीन झारखंड सरकार के मंत्री व गिरिडीह के तत्कालीन सांसद ने लाखों रुपये की लागत से बदहाल तालाब का जीर्णोद्धार कराया था,लेकिन कार्य मे पारदर्शिता का अभाव व गुणवत्ता पूर्ण कार्य नहीं हुआ, फलस्वरूप हुए भ्रष्टाचार के कारण तालाब का बांध बह गया है। वहीं स्थानीय घरों व दुकानों में पानी घुस जाने से किताब दुकान, जेनरल स्टोर, टेन्ट हाउस, व्यूटी पार्लर के व्यवसायियों को हजारों रुपये लागत के सामानों की क्षति हुई है।

रिपोर्ट – मासूम

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored