सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

बारिश के कारण ग्रामीण का कच्चा मकान ध्वस्त, खुले आसमान में रहने को हुए मजबूर

Due to rain, the raw house of the villagers is destroyed

- sponsored -

लोहरदगा (सेन्हा) : लोहरदगा जिले के सेन्हा थाना क्षेत्र अंतर्गत चितरी ग्राम निवासी श्यामलाल सिंह का कच्चा मकान बारिश के कारण ध्वस्त हो गया। जिससे पड़ोसी का मकान भी छतिग्रस्त हो गया। दोनों परिवारों के सदस्यों को खुले आसमान के नीचे रहने के लिए होना पड़ रहा है। उल्लेखनीय है कि बीते शुक्रवार को तेज बारिश में चितरी निवासी श्यामलाल सिंह का कच्चा मकान ध्वस्त हो गया। मकान गिरने से कोई हताहत तो नहीं हुए, लेकिन ध्वस्त मकान ने पड़ोसी के मकान को भी क्षतिग्रस्त कर दिया है। वहीं घर मे रखे खाद्यान व अन्य सामग्री दब कर नष्ट हो गये, जिससे परिवार को रहने व खाने की समस्या उत्पन्न हो गई है। शयसमलाल सिंह की पत्नी शांति देवी ने बताया कि तीन कमरे के मकान था, जहां परिवार के 10 सदस्य रहते थे। अभी मेरे घर में कोई पुरुष नहीं है, सभी कमाने दूसरे राज्य गए हुए हैं। जो कोरोना महामारी में हुए लॉकडाउन में फंसे हुए है। ऐसी परिस्थिति में हमलोग बड़ी संकट में फंस गए हैं।

मकान गिरने से दो परिवार को भारी नुकसान

मकान ध्वस्त होने की सूचना पंसस राधिका देवी को मिलते ही पीड़िता के घर पहुंची, जायजा लेते हुए बीडीओ तथा सीओ को फोन से संपर्क कर वस्तु स्थिति से अवगत कराया। आपदा राहत कोष से सहायता प्रदान करवाने की बात की। साथ ही उस परिवार को राशन मुहैया प्रखंड विकास पदाधिकारी सच्चिदानन्द महतो द्वारा करवाया गया। पीड़िता शांति देवी के मकान गिरने से दो परिवार को भारी नुकसान हुआ है। जानकारी के अनुसार पीड़िता के घर का दीवार पड़ोसी संतोष सिंह के दीवार से जा टकराया जिससे दूसरा घर भी छतिग्रस्त हो गया। वहीं इस घटने से दोनों परिवार को काफी नुकसान का सामना करना पड़ रहा है। सारी बातों से सीओ तथा बीडीओ को अवगत कराया गया वहीं घटने की सूचना पर प्रखंड विकास पदाधिकारी सच्चिदानन्द महतो ने आपदा राहत कोष से पीड़ित परिवार शांति देवी को 20 किलो चावल चार किलो दाल तथा दो लीटर तेल प्रदान कर सहयोग करते हुए।

- Sponsored -

रिपोर्ट : आलोक कुमार

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored