सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

मानव श्रृंखला में प्रत्येक व्यक्ति की भागीदारी आवश्यकः एसडीएम

डेहरी ऑन सोन में बुधवार को डेहरी अनुमंडल परीसर में जल-जीवन-हरियाली के समर्थन में 19 जनवरी को बनने वाली मानव श्रृंखला में सभी की सहभागिता आवश्यक है। ये बातें अनुमंडल पदाधिकारी लाल ज्योतिनाथ शाहदेव ने मानव श्रृंखला को लेकर शहर के गणमान्य व्यक्तियों व पुजा कमिटी मुहर्रम कमेटी के लोगों को विधि व्यवस्था के बैठक में उपस्थित एएसपी, डिसीएलआर, बीडीओ सीओ थानाध्यक्ष को संबोधित करते हुए कहा कि जल-जीवन-हरियाली, नशामुक्ति तथा बाल विवाह-दहेज प्रथा उन्मूलन के समर्थन में 19 जनवरी को विशाल मानव श्रृंखला का निर्माण किया जा रहा है।

- Sponsored -

रोहतासः-  जिले के डेहरी ऑन सोन में बुधवार को डेहरी अनुमंडल परीसर में जल-जीवन-हरियाली के समर्थन में 19 जनवरी को बनने वाली मानव श्रृंखला में सभी की सहभागिता आवश्यक है। ये बातें अनुमंडल पदाधिकारी लाल ज्योतिनाथ शाहदेव ने मानव श्रृंखला को लेकर शहर के गणमान्य व्यक्तियों व पुजा कमिटी मुहर्रम कमेटी के लोगों को विधि व्यवस्था के बैठक में उपस्थित एएसपी, डिसीएलआर, बीडीओ सीओ थानाध्यक्ष को संबोधित करते हुए कहा कि जल-जीवन-हरियाली, नशामुक्ति तथा बाल विवाह-दहेज प्रथा उन्मूलन के समर्थन में 19 जनवरी को विशाल मानव श्रृंखला का निर्माण किया जा रहा है।

आगे उन्होंने कहा कि मानव श्रृंखला निर्माण में प्रत्येक व्यक्तियों की भागीदारी अत्यंत ही आवश्यक है। मानव श्रृंखला नौहट्टा रोहतास होते हुए तिलौथू, डेहरी होते हुए अनुमंडल क्षेत्र के बाडर पंडुरी तक। सुअरा मोड़ से जमुहार बगिंचा रेस्टोरेंट तक एवं अकोढ़ी गोला से राजपुर का बाडर तक। साथ ही तिलौथू से निमियांडीह चौक तक। अनुमंडल क्षेत्र के सभी जगहों को मिला कर 102 किलोमीटर तक 11.30 बजे से 12 बजे तक मानव श्रृंखला का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जलवायु परिवर्तन से होने वाले विभिन्न प्रकार के समस्याओं के निराकरण के लिए सरकार द्वारा कार्ययाजना बनाकर अनेक कार्यक्रमों का संचालन किया जा रहा है।

वही एसडीपीओ सह एएसपी संजय कुमार ने कहा कि सम्वंधीत थानाध्यक्ष अपने क्षेत्रों में मानव श्रृंखला के विधी व्यवस्था पर कड़ी नजर रखेंगे साथ ही जल-जीवन-हरियाली अभियान की शुरूआत की गयी है। इस अभियान के तहत आहर तालाब, कुंओं को अतिक्रमणमुक्त करते हुए उनका व्यापक रूप से जीर्णोद्धार का कार्य चल रहा है। इसके साथ ही जल संरक्षण हेतु विभिन्न अभियानों को त्वरित गति से चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सोख्ता का निर्माण जल संरक्षण हेतु करने से पानी वेस्ट नहीं होता है। इसलिए ग्रामीण तथा शहरी क्षेत्रों में स्थापित चापाकलों आदि में जहां पानी वेस्ट हो जाता है वहां सोख्ता का निर्माण किया जाय।

- Sponsored -

उन्होंने कहा कि जल और हरियाली के बिना जीवन की कल्पना ही बेमानी है। जल और हरियाली रहेगी तभी जीवन सुरक्षित रह सकता है। उन्होंने उपस्थित लोगों का आह्वान किया कि जल और हरियाली को बचाने के लिए जहां तक हो सके वे अपनी भागीदारी अवश्य दें। उन्होंने कहा कि हमें तथा हमारी आनी वाली पीढ़ियों को खुशहाल वातावरण देने हेतु हम सभी को मिल कर प्रयास करना होगा।इस बैठक में एएसपी संजय कुमार ,डिसीएलआर स्वेता मिश्रा, बीडीओ अरूण कुमार सिंह , थानाध्यक्ष सुबोध कुमार शहर के गणमान्य व्यक्ति सहित अनुमणडल के पदाधिकारी और कर्मी मौजूद रहे।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored