सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

सम्मानित हुये थानाध्यक्ष, लूटी हुई मुर्तियों को बरामद करने में निभाई थी अहम भुमिका

वैसे तो पुलिस के कार्यो से आम लोगों में नाराजगी रहती हैं। लेकिन यह भी सच हैं की कुछ ऐसे पुलिस अधिकारी हैं। जिनके कार्यो की लोग वाहवाही कर रहे हैं। कुछ ऐसा ही दृश्य देखने को मिला हैं।

- sponsored -

राज किशोर की रिपोर्ट
समस्तीपुरः- वैसे तो पुलिस के कार्यो से आम लोगों में नाराजगी रहती हैं। लेकिन यह भी सच हैं की कुछ ऐसे पुलिस अधिकारी हैं। जिनके कार्यो की लोग वाहवाही कर रहे हैं। कुछ ऐसा ही दृश्य देखने को मिला हैं। सरायरंजन के पूर्व थानाध्यक्ष और वर्तमान थानाध्यक्ष रोसड़ा अमित कुमार को ऐतिहासिक राम जानकी मठ परिसर में महंत शिवराम दास एवं मंदिर न्यास समिति सदस्यों के द्वारा सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर नरघोघी मंठ परिसर में न्यास समिति सदस्य एवं महंत शिवराम दास जी ने वैदिक मंत्रोच्चारण करते हुए हनुमत स्वर्ण माला से सम्मानित किया। उनके उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए आगे बढ़ने का आर्शिवाद प्रदान किये। इससे पूर्व थानाध्यक्ष को पुष्प,अक्षत एवं चन्दन से अभिषेक करते हुए मिथिला परंपरा के अनुसार पाग,चादर एवं माला से सैकड़ो मंहत एवं ग्रामीणों के बीच सम्मानित किया गया। उपस्थित महंत एवं ग्रामीणों के द्वारा तत्कालीन थानाध्यक्ष अमीत कुमार द्वारा पूर्व में किये गये कार्यो की सराहना की जा रही थी। वहीं उनके कर्तव्य एवं ईमानदारी की चर्चा जोरो पर थी। वहीं सरायरंजन क्षेत्र के लोगों में खुशी का माहौल देखा गया।

सरायरंजन थाना क्षेत्र के नरघोघी रामजानकी मठ से 12 अप्रैल 2018 की रात पचास करोड़ से अधिक की बेशकीमती मूर्ति की लूट हुई थी। इस लूटकांड में  कटिहार मेडिकल कॉलेज के एमबीबीएस के तृतीय वर्ष के छात्र डॉ अशोक उर्फ पप्पू भाई समेत छह लोगों को पूर्णिया से गिरफ्तार किया था। इस बड़ी कांड में तत्कालीन समस्तीपुर एसपी दीपक रंजन के द्वारा सदर डीएसपी मो० तनवीर के नेतृत्व में टीम का गठन कर डीएसपी के साथ इंस्पेक्टर हरिनारायण सिंह, सरायरंजन थानाध्यक्ष अमित कुमार, कल्याणपुर थानाध्यक्ष मधुरेन्द्र किशोर, डीआईयू के शिव कुमार पासवान और बंगरा थानाध्यक्ष को शामिल कर फिल्मी स्टाइल में लूटी गई मूर्ति पूर्णिया से बरामद हुआ था।

- Sponsored -

इस लूटकांड में समस्तीपुर पुलिस ने कटिहार मेडिकल कॉलेज के एमबीबीएस के तृतीय वर्ष के छात्र डॉ अशोक उर्फ पप्पू भाई सहित छह लोगों को पूर्णिया से गिरफ्तार किया था। इस बड़ी लूट कांड बरामदगी किए जाने में अहम भूमिका निभाने वाले पूर्व थानाध्यक्ष सरायरंजन एवं वर्तमान थानाध्यक्ष रोसड़ा अमित कुमार को न्यास समिति सदस्य एवं महंत शिवराम दास जी ने सम्मानित किया। इस अवसर महंत शिवराम दास ने कहा की मुर्ति लुट बरामदगी में थानाध्यक्ष अमित का सर्वोतम प्रयास रहा। देश में ऐसे ही पुलिस अधिकारी की जरूरत हैं। जो त्वरित रूप से कारवाई कर मामले का निपटारा करें। मौके पर साहित्यकार सह पत्रकार संजीव कुमार सिंह,डॉ० अभय कुमार मिश्र उर्फ बबलू, अरुण सिंह, कौशल किशोर राय,रण निर्भय नारायण सिंह उर्फ बुलबुल सिंह,पवन यादव आदि मौजूद रहे।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored