सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

स्मार्ट सिटी में प्रवासी मजदूरों को मिले अधिक से अधिक काम: सीईओ

Migrant laborers get more work in smart city: CEO

- sponsored -

रांची: स्मार्ट सिटी कॉरपोरेशन के सीईओ और सूडा के निदेशक अमित कुमार ने राजधानी रांची के एचईसी क्षेत्र में बन रहे स्मार्ट सिटी मिशन की परियोजनाओं में अधिक से अधिक शहरी क्षेत्र के प्रवासी मजदूरों को काम देने का निर्देश अधिकारियों को दिया है। सीईओ ने शनिवार को स्मार्ट सिटी,जुडको और विभिन्न निर्माण एजेंसियों के अधिकारियों को से कहा कि सरकार की प्राथमिकता है कि प्रवासी मजदूरों को अपने हीं राज्य में काम मिले। ताकि इनके परिवार के भरण पोषण में कोई कठिनाई नहीं हो। उन्होंने अधिकारियों से स्मार्ट सिटी कॉरपोरेशन व जिला प्रशासन के पास पहले से तैयार श्रमिकों का डेटा मंगाकर काम करने का निर्देश दिया। सीईओ ने अधिकारियों से कार्यस्थल पर सोशल डिस्टेंसिंग और अन्य प्रोटोकॉल का ध्यान रखने को कहा।
ट्रैफिक कंट्रोल के नौ में से तीन कॉरिडोर का काम पूरा
सीईओ ने रांची शहर के लिए स्थापित हो रहे कमांड कंट्रोल एंड कम्यूनिकेशन सेंटर का भी निरीक्षण किया। मौके पर उन्होंने कहा कि राजधानी के लिए स्मार्ट सिटी परियोजना काफी महत्वपूर्ण है। इस परियोजना से रांची में यातायात प्रबंधन से लेकर त्वरित आपातकालिन सेवा सुनिश्चित कराने में काफी मदद मिलेगी। साथ ही क्राईम कंट्रोल में भी हम पुलिस की मदद कर पाएंगे। उन्होंने बताया कि ट्रैफिक को लेकर शहर को नौ कॉरिडोर में बांटा गया है, जिसमें तीन कॉरिडोर का कार्य लगभग पूरा हो गया है। सभी जंक्शन पर सर्विलांस कैमरे,ट्रैफिक सिग्नल्स, वैरियेबल मैसेज साईन बोर्ड, पब्लिक एनाउंसमेंट सिस्टम के साथ साथ इमरजेंसी कॉल बॉक्स भी लगाया जा रहा है। इसके शुरु होने से ट्रैफिक का रेगुलेशन व मॉनिटरिंग आॅनलाईन होगा।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -