सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

नायक समाज पार्टी ने जननायक कर्पूरी ठाकुर की मनाई जयंती

फारबिसगंज में स्वतंत्रता सेनानी गरीब दलित पिछड़े दोस्तों के मसीहा बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जननायक कपूरी ठाकुर जी के जयंती के अवसर पर नायक समाज पार्टी के तत्वाधान में शुक्रवार को स्थानीय ज्योति सभा भवन में जयंती समारोह का आयोजन किया गया।

- sponsored -

सुमन कुमार, संवाददाता
अररियाः- जिले के फारबिसगंज में स्वतंत्रता सेनानी गरीब दलित पिछड़े दोस्तों के मसीहा बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जननायक कपूरी ठाकुर जी के जयंती के अवसर पर नायक समाज पार्टी के तत्वाधान में शुक्रवार को स्थानीय ज्योति सभा भवन में जयंती समारोह का आयोजन किया गया। समारोह की अध्यक्षता समारोह की अध्यक्षता मुन्ना ठाकुर ने किया, जबकि संचालन सोनेलाल ठाकुर ने की। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में बहुजन मुक्ति पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष विधानन्द पासवान एवं जदयू नेता किशोर राय उपस्थित हुए।

मौके पर नाई समाज के प्रबुद्ध जनों के द्वारा जननायक जी के तैलीय चित्र पर माल्यार्पण कर पुष्पांजलि दी गई। इस अवसर पर वक्ताओं द्वारा उनके बताए मार्ग पर चलने का संकल्प लिया गया। समारोह के मौके पर अध्यक्ष ठाकुर ने कहा कि जिसने समाज के विभिन्न जातियों और शोषित को उनका हक दिलाने का काम किया चाहे वह स्वर्ग गरीब ही क्यों ना हो। लेकिन शोषितो ने तो कभी भी नाई समाज को उनका हक देने और दिलाने का प्रयास नहीं किया। साथ ही शोषित और पिछड़ों की राजनीति करने वाली पार्टियों चुनाव के समय जननायक को तो याद करते हैं लेकिन जननायक को मिलने वाला वह सामान (भारत रत्न) दिलाने के लिए तभी सड़क से संसद तक आवाज नहीं उठाते।

ठाकुर ने कहा कि आज नाईयों की स्थिति बद से बदतर होने को है, लेकिन किसी सरकार ने उसके उत्थान का प्रयास नहीं किया। कहा कि समाज को संगठित होकर अपना हक लेना होगा। जबकि मुख्य अतिथि श्री राय ने उनके जीवनी पर प्रकाश डालते हुए कहा कि स्वर्गीय ठाकुर गरीब दलित, शोषित, पिछड़ों के मसीहा थे। उन्होंने शिक्षा मंत्री रहने रहते हुए गरीबों को शिक्षा में बहुत लाभ दिया उन्होंने अंग्रेजी की अनिवार्यता को खत्म कर गरीब पिछड़े समाज के बच्चों को आगे बढ़ने का मौका दिया। जिससे गरीबों की बच्चे भी उच्च शिक्षा प्राप्त करने लगे। कहा कि ऐसे महान नेता के जीवनी से हमें सीख लेनी चाहिये।

- Sponsored -

वहीं विद्यानन्द पासवान ने स्वर्गीय कपूरी ठाकुर की जीवनी पर प्रकाश डालते हुए कहा कि वे वज्वनो के जुबान थे। आज हम उन्हें याद कर अपने को धन्य समझते हैं। कहा कि कपूरी जी को उस समय के मनुवादी सामंतवादियों ने कम कम अपमानित नहीं किया, बावजूद वे लगातार दलित, पिछड़े, शोषित समाज की हक की लड़ाई अंतिम क्षण तक लड़ते रहे.। इस अवसर पर छेदी ठाकुर, नंदन ठाकुर, कृत्यानंद ठाकुर, रामचंद्र ठाकुर, राजेंद्र ठाकुर, जानकी रमन ठाकुर, विपिन ठाकुर, चिंटू ठाकुर, चंदू ठाकुर, जोगेंद्र ठाकुर, ब्रह्मदेव पासवान, वार्ड पार्षद प्रीतम गुप्ता, राजद नेता सह पार्षद राजा अली, भारत मुक्ति मोर्चा के जिला सचिव सुरेश पासवान सहित भारी संख्या में लोग उपस्थित रहे कर जननायक जी तस्वीर पर श्रद्धासुमन अर्पित किया।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -