सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

नई शिक्षा नीति भारतीयता को मजबूत करनेवाली: दीपक प्रकाश

New Education Policy Strengthening Indianness: Deepak Prakash

- Sponsored -

रांची: प्रदेश भाजपा द्वारा शनिवार को नई शिक्षा नीति पर वर्चुअल कायर्शाला का आयोजन किया गया। कायर्शाला में प्रदेश पदाधिकारी, जिलाध्यक्ष और जिला प्रभारी शामिल हुए। उद्घाटन करते हुए प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद दीपक प्रकाश ने कहा कि मोदी सरकार द्वारा लाई जा रही नई शिक्षा नीति भारत और भारतीयता को मजबूत करने वाली नीति है। उन्होंने कहा कि वर्ष 1986 में तत्कालीन प्रधानमंत्री स्व राजीव गांधी द्वारा लाई गई शिक्षा नीति अधूरी साबित हुई। देश मे स्थानीय भाषा,मातृभाषा,और भारतीय भाषा का,भारतीय संस्कृति, कला का समुचित विकास नहीं कर सकी। अंग्रेजी के बढ़ते प्रभाव ने इसे लगातार कुंठित किया। प्रकाश ने कहा कि मोदी सरकार की नई शिक्षा नीति में शोध आधारित नीति का समावेश है। कौशल विकास के साथ तकनीकी शिक्षा, व्यावहारिक शिक्षा ,संस्कृति और इतिहास के ज्ञान का समावेश है। यह नीति बच्चों के सोच को विकसित करने वाली नीति है। उन्होंने कहा कि शिक्षा में देश के जीडीपी का छह फीसदी खर्च करने के निर्णय से शिक्षा क्षेत्र में गुणात्मक सुधार होंगे।
सरकार स्थानीय भाषा पर योजना तैयार करे: बाबूलाल
भाजपा के विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने कहा कि राज्य सरकार विरोध की राजनीति छोड़ स्थानीय भाषाओं के विकास की योजना तैयार करे। इस नीति में स्थानीय भाषाओं के विकास की असीम संभावनाएं हैं। उन्होंने कहा कि इस नीति में शिक्षा के साथ जीवन प्रबंधन की भी सीख है। बौद्धिकता के साथ हुनर को बढ़ावा दिया गया है। जीवन और शिक्षण साथ साथ की यह नीति है।
नई शिक्षा नीति आज देश की जरूरत: धर्मपाल
भाजपा के संगठन महामंत्री धमर्पाल सिंह ने कायर्शाला को संबोधित करते हुए कहा कि यह सौभाग्य की बात है कि प्रधानमंत्री के सद्प्रयासों से यह बहुप्रतीक्षित शिक्षा नीति आई है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -