Sanmarg Live
Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, : Sanmarg Live, Morning India, Aawami News
BREAKING NEWS


{"effect":"slide-h","fontstyle":"bold","autoplay":"true","timer":"4000"}

Looks like you have blocked notifications!

कौआकोल सड़क दुर्घटना में एक की मौत, एक की हालात गंभीर

बुधवार को थाना क्षेत्र के कौआकोल बस स्टैंड के समीप सड़क दुर्घटना में एक की मौत हो गई। जबकि एक व्यक्ति गंभीर रूप से जख्मी हो गया। जिसे चिंताजनक स्थिति में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया। गौरतलब हो कि कचना गांव के सुधीर मिस्त्री के पुत्र नितेश कुमार मुख्य बाजार अपने मित्र के साथ मकर संक्रांति को लेकर सामान खरीदने आया था।

3

- Sponsored -

- sponsored -

नवादाः- जिले में बुधवार को थाना क्षेत्र के कौआकोल बस स्टैंड के समीप सड़क दुर्घटना में एक की मौत हो गई। जबकि एक व्यक्ति गंभीर रूप से जख्मी हो गया। जिसे चिंताजनक स्थिति में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया। गौरतलब हो कि कचना गांव के सुधीर मिस्त्री के पुत्र नितेश कुमार मुख्य बाजार अपने मित्र के साथ मकर संक्रांति को लेकर सामान खरीदने आया था। रास्ते में जाते समय विपरीत दिशा से आ रही पिकअप भान ने नितेश को रौंदते हुए भागने लगा। इसी दौरान ग्रामीणों ने खदेड़ कर वाहन चालक को पकड़ लिया, परंतु वह चकमा देकर वाहन छोड़कर भागने में सफल रहा।

परिजनों के मुताबिक प्रखंड मुख्यालय के प्रिंस पालर्टी फॉर्म में चलने वाली पिकअप भान जमुई की ओर से अनियंत्रित गति से आ रही थी। नितेश अपने मित्र अर्जुन पासवान के पुत्र रितेश कुमार के साथ साइकिल से गांव जा रहा था। तभी वाहन चालक सीधे उसमें टक्कर मार दी जिससे अचेत होकर नितेश घटनास्थल पर गिर गया। वाहन लेकर भागने के दौरान चालक ने उसको रौदते हुए फरार होने का प्रयास किया। जिससे घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई। बाद में ग्रामीणों के सहयोग से दोनों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया जिसमें एक को चिकित्सक ने मृत घोषित किया और दूसरे का इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में किया गया।

घटना की सूचना जैसे ही स्थानीय पुलिस को मिली दल बल के साथ स्वास्थ्य केंद्र पहुंचकर मामले का हाल लिया और परिजनों को समझाने की कोशिश की, लेकिन परिजन काफी उग्र थे। इस दौरान पुलिस को ग्रामीणों के कोपभाजन का भी शिकार होना पड़ा। बाद में ग्रामीण शव को स्वास्थ्य केंद्र से लेकर चले गये और कचना मोड़ के समीप नवादा-जमुई पथ को अवरुद्ध कर घंटो जाम कर विरोध जताया। घटना के बाद बीडीओ डॉ अखिलेश कुमार घटना स्थल पर पहुंच कर परिजनों को समझाने का प्रयास किया और हर संभव सरकारी स्तर पर मिलने वाली सहायता प्रदान किए जाने का आश्वासन दिया तब जाकर लोग शांत हुए।

- sponsored -

- Sponsored -

इस दौरान बीडीओ ने परिवारिक लाभ के तहत 20 हजार रूपये का चेक एवं कबीर अंत्येष्टि योजना के तहत तीन हजार रूपये नगद प्रदान किया। तथा जल्द ही मुख्यमंत्री आपदा प्रबंधन द्वारा मिलने वाली सहायता राशि को प्रदान किए जाने का आश्वासन दिया तब जाकर आवागमन बहाल हो सका। घंटों नवादा-जमुई पथ जाम रहने से राहगीरों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। इस दौरान जैसे ही मृतक की मां को बेटे की मौत की खबर मिली मां भागी भागी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र आई जहां जवान बेटे की मौत की खबर सुनकर मानो उन पर पहाड़ टूट पड़े उनके करुण चीत्कार से संपूर्ण सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का माहौल गमगीन हो गया।

हर कोई उन्हें समझाने का प्रयास कर रहा था परंतु वह भगवान से अपने इस दुःख की बेला में न्याय देने की गुहार लगा रही थी। हर कोई उन्हें समझाने की कोशिश कर रहे थे परंतु मां के करुण चीत्कार के सामने हर लोगों की आंखें नम हो गई थी। बाद में पुलिस ने घटनास्थल से मुर्गी लदे पिकअप भान संख्या बीआर-065/8468 को जप्त कर थाना लाई। समाचार प्रेषण तक प्राथमिकी दर्ज किए जाने की प्रक्रिया चल रही थी।

सड़क हादसे में मौत का शिकार नितेश पुलिस की नौकरी करना चाहता था। वह 12 जनवरी को बिहार पुलिस द्वारा आयोजित प्रतियोगिता परीक्षा में शामिल होने के लिए दरभंगा गया था। मृतक की मां रोते-रोते बताती है कि वह जब परीक्षा देकर घर वापस आया था तो वह कहता था कि इस बार वह पुलिस की परीक्षा में जरूर पास करूंगा और पास करने के बाद वह बिहार पुलिस में जाकर अपने राज्य और राष्ट्र की सेवा करेगा। परंतु उससे पहले ही काल के गाल में वह समा गया जिससे उसके सपने अधूरे रह गए यह कहते-कहते उसकी मां बार-बार बेहोश हो जा रही थी।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -