सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

पीएलएफआइ हार्डकोर उग्रवादी गिरफ्तार, कई काण्डों में था वांछित

PLFI hardcore militant arrested, wanted in many cases

- Sponsored -

लोहरदगा (सेन्हा) : सेन्हा थाना पुलिस ने पीएलएफआइ हार्डकोर उग्रवादी को गिरफ्तार करने में कामयाब हुई है। गिरफ्तार उग्रवादी की पहचान सेन्हा थाना क्षेत्र के चौकनी निवासी स्व. रामस्वरूप साहू के 47 वर्षीय पुत्र विजय साहू के रूप में की गई है। यह कई उग्रवादी घटनाओं में वांछित है। सेन्हा थाना प्रभारी विरेन्द्र एक्का ने गुरुवार को गिरफ्तार उग्रवादी को प्रेस के समक्ष प्रस्तुत करते हुए बताया कि इससे पूर्व भी कई बार जेल जा चुका है। वह सेन्हा थाना कांड संख्या 94/2019 नहर में गोली चलाने, कांड संख्या 95/2019 दीपेश्वर भगत का ट्रैक्टर जलने तथा कांड संख्या 62/20 नहर निर्माण कार्य में कार्यरत मजदूरों का मोबाइल और धमकी आदि कांडों में वांछित था। बताया गया कि विगत 12 जून को सेन्हा थाना क्षेत्र के तोड़ार मैना टोली आम बगीचा में 13 करोड़ रुपये की लागत से फुलझर नहर का निर्माण हो रहा है। यहां उग्रवादी संगठन पीएलएफआइ के हथियारबंद दस्ता सदस्य पहुंचे और मजदूरों और मशीन ऑपरेटरों से कहा कि निर्माणकारी एजेंसी द्वारा लेवी नहीं मिला है। जबतक लेवी नहीं मिलता है, काम बंद रहेगा। पीएलएफआइ के नक्सलियों ने वहां पर पर्चा छोड़ कर घटना की जिम्मेवारी ली थी। इसके बाद से नहर निर्माण कार्य बंद है।

उग्रवादियों की गिरफ्तारी के लिए गठित  की गई थी टीम- एसपी

इस घटना के बाद एसपी प्रियंका मीणा ने उग्रवादियों की गिरफ्तारी के लिए टीम गठित की थी। इसमें डीएसपी  परमेश्वर प्रसाद, सेन्हा थाना प्रभारी वीरेंद्र एक्का, रमेश तिवारी को शामिल किया गया था। एसपी द्वारा गठित टीम ने इस घटना में शामिल पांच उद्रवादियों को पहले  ही गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। साथ ही उन उग्रवादियों द्वारा दिए गए बयान पर कार्रवाई करते हुए उक्त उग्रवादी को गिरफ्तार करने में सफलता पाई। पुलिस गिरफ्त में आए उग्रवादी विजय कुमार साहू ने सेन्हा थाना पुलिस के समक्ष लेवी के खातिर फुलझर नहर निर्माण कार्य रोकने में अपनी अंतरलिप्तता स्वीकार की है। साथ ही उग्रवादी संगठन की क्रियाकलाप की जानकारी दी।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored