सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

9 बड़े नालों की गाद सफाई का कार्य पूर्ण करने का लक्ष्य निर्धारित, विशेष टीम गठित

पटना नगर निगम के कंकड़बाग अंचल अंतर्गत अवस्थित योगीपुर नाले की उड़ाही का कार्य बुधवार को शुरू हुआ। नगर आयुक्त, हिमांशु शर्मा द्वारा उड़ाही कार्य का निरीक्षण किया गया।

- Sponsored -

पटना:- पटना नगर निगम के कंकड़बाग अंचल अंतर्गत अवस्थित योगीपुर नाले की उड़ाही का कार्य बुधवार को शुरू हुआ। नगर आयुक्त, हिमांशु शर्मा द्वारा उड़ाही कार्य का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान अपर नगर आयुक्त (योजना), अपर नगर आयुक्त (सफाई), कंकड़बाग अंचल के कर्मी उपस्थित रहे। निरीक्षण के दौरान नगर आयुक्त द्वारा सभी बड़े नालों के साथ-साथ निगम क्षेत्रांतर्गत अन्य सभी छोटे नालों, नालियों, मैनहोल, कैचपिट आदी की उड़ाही का कार्य भी मई तक पूर्ण करने का निर्देश दिया गया। विदित है कि विगत वर्ष हुए भारी जल जमाव की जांच हेतु बिहार सरकार द्वारा गठित समिति ने पटना नगर निगम अंतर्गत सभी 9 बड़े नालों यथा सर्पेंटाइन नाला, योगीपुर नाला, मंदीरी नाला, बाकरगंज नाला, आनंदपुरी नाला, कुर्जी नाला, बाईपास नाला (कंकड़बाग क्षेत्र), बाईपास नाला (नूतन राजधानी क्षेत्र) एवं सैदपुर नाले की उड़ाही का कार्य एजेंसी के माध्यम से कराने का सुझाव दिया था।

निदेर्शानुसार एजेंसी के चयन हेतु निविदा जारी की गई जो तकनीकी कारणों से असफल रही। एजेंसी के चयन नहीं होने पर अब इन सभी नालों की सफाई भी निगम के कर्मियों द्वारा सुपर सकर, पोकलेन, इत्यादी मशीनों के जरिये की जाएगी। कार्यों को ससमय एवं गुर्णवत्तापूर्वक पूर्ण कराने हेतु प्रत्येक नाले की उड़ाही के लिए विशेष टीम का गठन किया गया है। पाटलिपुत्र अंचल : पाटलिपुत्र अंचल अंतर्गत सभी तीन बड़े नालों यथा मंदीरी नाला, आनंदपुरी नाला एवं कुर्जी/राजीव नगर नालों की उड़ाही हेतु पाटलिपुत्र अंचल के मुख्य सफाई निरीक्षक को उत्तरदायित्व सौंपा गया है। वहीं, संसाधनों की उपलब्धता हेतु पाटलिपुत्र प्रमंडल के कनीय अभियंता को तकनीकी पदाधिकारी एवं अंचल के नगर प्रबंधक को पर्यवेक्षी पदाधिकारी नियुक्त किया गया है।

उड़ाही कार्य के तकनीकी पक्ष से जुड़ी आवश्यकताओं एवं दिशा-निदेर्शों की पूर्ति हेतु कार्यपालक अभियंता, पाटलिपुत्र प्रमंडल एवं प्रशासनिक कार्य हेतु कार्यपालक पदाधिकारी, पाटलिपुत्र अंचल को जिम्मा सौंपा गया है। नूतन राजधानी अंचल : नूतन राजधानी अंतर्गत सर्पेंटाइन नाला, बाईपास नाला एवं बाकरगंज नालों की उड़ाही का उत्तरदायित्व अंचल के मुख्य सफाई निरीक्षक को सौंपा गया है। संसाधनों की पूर्ति हेतु कनीय अभियंता, एनसीसी प्रमंडल को जिम्मा सौंपा गया है। साथ ही नगर प्रबंधक, एनसीसी को पर्यवेक्षी पदाधिकारी बनाया गया है। नाला उड़ाही कार्य हेतु वरीय पदाधिकारी (तकनीकी) हेतु कार्यपालक अभियंता, नूतन राजधानी प्रमंडल एवं प्रशासनिक कार्यों हेतु कार्यपालक पदाधिकारी, नूतन राजधानी अंचल को उत्तरदायी पदाधिकारी बनाया गया है।

- Sponsored -

कंकड़बाग अंचल : कंकबाग अंचल अंतर्गत दोनों बड़े नालों यथा योगीपुर नाला एवं बाईपास नाला की उड़ाही हेतु मुख्य सफाई निरीक्षक, कंकड़बाग अंचल को उत्तरदायी कर्मी एवं कार्यपालक पदाधिकारी को वरीय उत्तरदायी पदाधिकारी बनाया गया है। अंचल के नगर प्रबंधक को पर्यवेक्षक की भूमिका सौंपी गयी है। वहीं, संसाधनों की उपलब्धता एवं तकनीकी रूप से कार्यों का उत्तरदायी कनीय अभियंता एवं वरीय उत्तरदायी पदाधिकारी के रूप में कार्यपालक अभियंता, कंकड़बाग प्रमंडल को प्रतिनियुक्त किया गया है।

बाकरगंज एवं अजीमाबाद अंचल : बाकरगंज एवं अजीमाबाद अंचल अवस्थित सैदपुर नाला की उड़ाही कार्य हेतु दोनों अंचल के मुख्य सफाई निरीक्षक को उत्तरदायी पदाधिकारी बनाया गया है। वहीं दोनों अंचल के कार्यपालक पदाधिकारियों को वरीय उत्तरदायी पदाधिकारी बनाया गया है। दोनों अंचल के नगर प्रबंधकों को पर्यवेक्षी बनाया गया है। वहीं, संसाधनों की उपलब्धता सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी कनीय अभियंता, बाकरगंज एवं अजीमाबाज प्रमंडल के कनीय अभियंताओं को सौंपी गई है। वहीं कार्यों के तकनीकी रूप से उत्तरदायित्व हेतु दोनों प्रमंडलों के कार्यपालक अभियंताओं को जिम्मा दिया गया है। मुख्यालय स्तर से सभी नालों की उड़ाही कार्य की निगरानी हेतु पदाधिकारियों को जिम्मा सौंपा गया है। वहीं, नियमित अंतराल पर खुद नगर आयुक्त महोदय द्वारा कार्यों की समीक्षा की जाएगी।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored