सन्मार्ग लाइव
सनसनी नहीं, सटीक खबर

तालाब खोदने में नाबालिगों से लिया जा रहा काम, प्रशासन अंजान

Work being done by minors to dig pond, administration unknown

- sponsored -

गुमला :  एक तरफ जहां सरकार बाल मजदूरी को रोकने के लिए कड़े कानून बनाये हैं. बच्चों को पढ़ाने-लिखाने के लिए स्कूल में पूरी सुविधा दे रखी है. बच्चे कैसे पढ़े इसकी चिंता सरकार कर रही है. बच्चों के स्कूल ड्रेस, किताब- कॉपी, मिड डे मील तक की सुविधा सरकार प्रदान कर रही है. वो इसलिए कि बच्चे पढ़ेंगे तभी तो देश बढ़ेगा. लेकिन हम आपको गुमला जिला के कामडारा प्रखंड की एक तस्वीर दिखा रहे हैं. तस्वीर में आप देख रहे होंगे कि यहां तालाब खोदने का काम चल रहा है. तालाब खोदने के काम में पुरुष मजदूर और महिला भी काम में लगी हुईं हैं. अब गौर से देखिये इस तस्वीर को इसमें कई नाबालिग बच्चे भी काम में लगे हुए हैं. कई बच्चे मिट्टी उठाते हुए दिख रहे हैं, तो वहीं कई बच्चे मिट्टी खोदते नजर आ रहे हैं. यह पूरा काम कानून को ताख में रखकर नाबालिग बच्चों से कराया जा रहा है. तालाब खोदने का काम गुमला के कामडारा प्रखंड कार्यालय से महज एक किमी की दूरी पर कराया जा रहा है. अब आगे देखना होगा कि आखिर वो कौन लोग हैं जो बाल मजदूरी करा कर अपनी झोली भरने का काम कर रहे हैं. और शासन-प्रशासन के नाक के नीचे बड़े ही आराम से नाबालिग बच्चों से काम करवा कर तालाब खुदवा रहे हैं.

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored