Sanmarg Live
Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, : Sanmarg Live, Morning India, Aawami News

धारदार हथियार से युवक की हत्या, घर के पास फेका शव

कादिरगंज ओपी क्षेत्र के घोसतावां गांव में एक युवक की तेज धारदार हथियार से हत्या कर दिया। अपराधियों ने शव को मृतक के घर के समीप पइन में फेक दिया। घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने आगजनी कर नवादा-जमुई पथ पर घोसतावां मोड़ के पास सड़क जामकर हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग पर अड़े रहे।

10

सुरेश राय के साथ रंजीत की रिपोर्ट

नवादाः- जिले के कादिरगंज ओपी क्षेत्र के घोसतावां गांव में एक युवक की तेज धारदार हथियार से हत्या कर दिया। अपराधियों ने शव को मृतक के घर के समीप पइन में फेक दिया। घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने आगजनी कर नवादा-जमुई पथ पर घोसतावां मोड़ के पास सड़क जामकर हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग पर अड़े रहे। घटना की सूचना मिलते ही एएसपी मुख्यालय महेन्द्र कुमार बसंत्री, सदर एसडीपीओ विजय कुमार झा तथा कादिरगंज ओपी प्रभारी देवेन्द्र सिंह दल बल के साथ घटना स्थल पर पहुंच मामले की तहकीकात करते हुए सड़क को जाम से मुक्त कराने का प्रयास किया।

लेकिन सड़क जाम कर रहे लोगों ने हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए घंटो सड़क को जाम रखा। जाम के कारण इंटर के परीक्षार्थियों तथा यात्रियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। घटना स्थल पर पहुंचे एएसपी मुख्यालय द्वारा एफएसएल की टीम को बुलाने का आश्वासन देकर सड़क को जाम से तो मुक्त करा दिया, लेकिन ग्रामीणों द्वारा शव को पुलिस को अपने कब्जा में लेने से रोक दिया। बताया जाता है कि घोसतावां निवासी बधई सिंह का 40 वर्षीय पुत्र नीतीश कुमार अन्य दिनों की तरह घर में सो रहा था। घर में सिर्फ मृतक के वृद्ध पिता साथ रहते थे।

मृतक के अन्य परिवार दिल्ली में रहकर रोजी रोटी के लिए काम करते हैं। मृतक भी दिल्ली में ही रहता था। घर में वृद्ध पिता को संभालने के लिए 2 माह पूर्व नीतीश गांव आया था। तभी सोमवार की रात्रि अपराधियों ने नीतीश को घर से बुलाकर हत्या कर दिया। जिस स्थान पर नीतीश का शव पड़ा था उस स्थान पर शराब का खाली पाॅलिथीन और ग्लास पड़ा था। पुलिस ने घटना स्थल से कुछ दूरी पर एक टूटा चप्पल तथा कुछ सिक्का बरामद किया है। मृतक के वृद्ध पिता ने बताया कि सोमवार की रात्रि लगभग 10 बजे नीतीश कुछ देर में आने की बात कह घर से निकल गया। जब देर रात तक नीतीश घर नहीं लौटा तब उसके पिता ने दरवाजा खोलने का प्रयास किया लेकिन दरवाजा बाहर से बंद था। जिसके वजह से पिता घर से बाहर नहीं निकल सके। हालांकि अभी तक हत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है। ग्रामीणों ने बताया कि मृतक नीतीश की पत्नी की मौत अज्ञात बीमारी की चपेट में आकर शादी के कुछ वर्षो के बाद ही हो गई थी। 

- sponsored -

- Sponsored -

क्या कहते हैं पुलिस पदाधिकारी

वहीं एएसपी महेन्द्र कुमार बसंत्री ने कहा कि मामला गंभीर है, पटना से एफएसएल की टीम बुलाई गई है। टीम को पहुंचने के बाद घटना की सभी बिन्दु पर जांच की जायेगी। एफएसएल की जांच रिपोर्ट तथा पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मामला का खुलासा हो पायेगा। वैसे इस घटना में शामिल अपराधियों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जायेगा। फिलहाल मृतक के परिजन द्वारा प्राथमिकी दर्ज करने के लिए कोई आवेदन नहीं दिया गया है। आवेदन प्राप्त होते ही प्राथमिकी दर्ज कर अग्रतर कार्रवाई की जायेगी।

ये भी पढ़ेंः- पीड़ित दुकनादार से मिलकर मंत्री नीरज कुमार ने दिया सुरक्षा का भरोसा

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

%d bloggers like this: