Sanmarg Live
Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, : Sanmarg Live, Morning India, Aawami News
Breaking News
गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंजा सीतामढ़ी, कोर्ट में गवाही देने जा रहे महिला समेत तीन की हत्याबेगूसराय : दर्दनाक हादसे में एक की मौत, दर्जन से अधिक घायलकारगिल चौक पर महिला दारोगा हाईट 155 cm करने की माँग को लेकर हंगामासंकट में पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था, नई नौकरियों पर लगी रोकगोपालगंज : हाजत से पेट्रोल पंप लूट कांड का एक आरोपी फरारट्रिपल मर्डर से दहला सीतामढ़ी, इलाके में बना तनाव का माहौलमुज़फ़्फ़रपुर: सेना जवान के घर से 20 लाख से अधिक की चोरी कर फरारअनंत सिंह लालू यादव के ” पोसुआ ” – नीरज कुमारनालन्दा : बर्थडे पार्टी में नर्तकियों के ठुमके पर अवैध हथियार से फायरिंग और जाम छलकाने का वीडियो वायरलजम्मू-कश्मीर के सभी सरकारी इमारतों और सरकारी वाहनों से जम्मू कश्मीर का झंडा हटा

जर्जर तार व बिजली से ग्रामीण हुए त्रस्त, अधिकारी हुए मस्त

69

- Sponsored -

- sponsored -

बिक्रमगंज : रोहतास जिले के बिक्रमगंज अनुमंडल के अंतर्गत स्थित जोन्ही गांव में बिजली के जर्जर तार एवं जर्जर विद्युत पोल से समस्त ग्रामीण लोग काफी मात्रा में त्रस्त हैं | जोन्ही गांव के समस्त ग्रामीण विद्युत आपूर्ति के लचर व्यवस्था से काफी त्रस्त हैं | स्थानीय लोगों का कहना है कि ग्रामीण लोगों एवं मुखिया मीरा देवी के द्वारा 19 सितंबर 2017 पत्रांक संख्या 20 सितंबर 2017 को बिक्रमगंज विद्युत अभियंता को लिखित आवेदन दिया गया | ग्रामीण लोगों का कहना है कि विद्युत अभियंता बिक्रमगंज के द्वारा 6 सितंबर 2017 को फोन से वार्तालाप होने पर आश्वासन दिया गया कि बहुत जल्द टूटे हुए पोल एवं जर्जर स्थिति में पड़े हुए तार को सुधार दिया जाएगा | लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुआ | तदुपरांत इसकी शिकायत बिक्रमगंज प्रखंड विकास पदाधिकारी मुखिया मीरा देवी के द्वारा 24 सितंबर 2018 को को भी आवेदन दिया गया लेकिन उनके तरफ से भी कोई सुनवाई नहीं हुआ | पूरे ग्रामीण लोगों के द्वारा 31 जनवरी 2019 को लिखित रूप में दूसरा आवेदन प्रखंड विकास पदाधिकारी बिक्रमगंज को दिया गया उनके द्वारा बताया गया कि इसका सुधार बहुत जल्द सुधार कर लिया जाएगा | लेकिन सब अधूरा का अधूरा ही रह गया | पुनः ग्रामीण लोगों एवं स्थानीय मुखिया मीरा देवी के द्वारा 8 अप्रैल 2019 को लोक शिकायत अदालत बिक्रमगंज रोहतास को लिखित रूप से आवेदन दिया गया | ग्रामीण लोग एवं मुखिया के द्वारा जिस में परिवारवाद प्राप्ति की तिथि 8 अप्रैल 2019 को अनन्य पंजीयन संख्या 532110108041901520 के द्वारा अनुमंडलीय लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी को लिखित रूप से आवेदन दिया गया | लिखित आवेदन में परिवादी मीरा देवी मुखिया के द्वारा लिखित आवेदन को दिया गया | जिसकी सुनवाई अनुमंडलीय लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी के द्वारा अनुमंडलीय कार्यालय बिक्रमगंज में 26 अप्रैल 2019 को होना था | लेकिन इस बिंदु पर अभी तक कोई भी समस्या का निदान नहीं हुआ |
स्थानीय लोगों का कहना है कि मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना के द्वारा यह सारी बातें अब अधूरे कोरे कागज के पन्नों पर सिमट कर रह गई है | इस बिंदु पर मुख्यमंत्री के द्वारा खुले तौर पर कहा गया कि बिहार सरकार हर घर में बिजली पहुंचाने के लिए कृत संकल्पित है, लेकिन यह सारी बातें हैं बिल्कुल ही खोखला दिखाई दे रहा है | लोगों का कहना है कि सरकार चुनाव के दौरान भूल भुलैया बातों को खाकर जनता को गुमराह कर देती है | जिससे जनता लोग दिग्भ्रमित हो जाते हैं | बिक्रमगंज अनुमंडल अंतर्गत जोन्ही गांव में लगभग 35 वर्षों से बिजली के पोल, विद्युत तार एवं स्विच काफी जर्जर स्थिति में है | इन बिंदुओं पर ग्रामीण लोगों में काफी भय व्याप्त है | लेकिन वही सारे अधिकारी कान में रुई डाल कर एवं आंखों पर पट्टी बांधकर जनता को मौत के मुंह में धकेलने का काम कर रही है | इन बिंदुओं पर विद्युत कनीय अभियंता बिक्रमगंज से फोन पर वार्तालाप करने के लिए प्रयास किया गया | लेकिन विद्युत कनीय अभियंता बिक्रमगंज के द्वारा फोन जाने पर किसी भी तरह का कोई प्रतिक्रिया व्यक्त नहीं किया गया | आखिर क्यों , ग्रामीण लोगों के मौत की जिम्मेदारी सरासर रूप में विद्युत कनीय अभियंता बिक्रमगंज की ही होगी , क्योंकि ग्रामीण लोगों एवं मुखिया के द्वारा कई बार लिखित और मौखिक आवेदन दिया गया लेकिन इस बात को सारे अधिकारी डालते गए , अगर आने वाले दिनों में बिजली से कोई अनहोनी घटना होती है तो सारी जवाबदेही अधिकारी का होगा, इन बिंदुओं पर सारे अधिकारी चुप्पी साधे हुए हैं , लोगों का कहना है कि अगर इस बिंदु पर किसी भी तरह का सुनवाई नहीं होता है तो हम सभी ग्रामीण जनता मजबूर होकर जन आंदोलन के लिए सड़क पर उतर जाएंगे | हमारी मांगे सभी अधिकारी एवं बिहार सरकार अगर पूरा नहीं करती है तो हम सभी ग्रामीण लोग मिलकर जन आंदोलन करने के लिए तैयार हैं | बिजली के लचर व्यवस्था से हमारे गांव में कई बार अनहोनी घटना भी हो चुकी है | लेकिन अब ऐसी स्थिति हम सब नहीं आने देंगे सरकार एवं प्रशासनिक अधिकारी को बाध्य होकर हमारी मांगे को पूरा करना ही होगा | नहीं तो हम सब आप चुप बैठने वालों में से नहीं हैं |
मौके पर मुखिया मीरा देवी, डीपलू लाल, अजय कुमार सिंह, अरुण दुबे, तुलसी सिंह , अकरम आलम, मृत्युंजय कुमार सिंह, मनोज राम, परवेज खान, अखिलेश पांडे, जलालु अंसारी, केशुराम ,निसार अहमद, जावेद खान ,राम जी राम, संजय कुमार , सिकंदर कुमार, बेबी तबस्सुम, लक्ष्मण पंडित ,सुरेंद्र दुबे, जरीना, शबाना ,मीना खातून, शांति देवी एवं कुसुम देवी सहित सैकड़ों ग्रामीण लोग उपस्थित थे |

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -