Sanmarg Live
Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi, हिंदी में समाचार, : Sanmarg Live, Morning India, Aawami News
BREAKING NEWS


{"effect":"slide-h","fontstyle":"bold","autoplay":"true","timer":"4000"}

संबद्ध डिग्री महाविद्यालय महासंघ ने दिया एक दिवसीय धरना

20

- sponsored -

- Sponsored -

सहरसा : संबद्ध डिग्री महाविद्यालय को अधिग्रहण करने की मांग को लेकर शुक्रवार को बिहार राज्य संबद्ध डिग्री महाविद्यालय शिक्षक शिक्षकेतर कर्मचारी महासंघ ने एक दिवसीय धरना दिया. धरना के माध्यम से शिष्टमंडल ने मुख्यमंत्री के नाम पांच सूत्री मांगों का ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा. जानकारी देते संघ जिलाध्यक्ष प्रो समीउल्लाह ने कहा कि संबद्ध डिग्री महाविद्यालय में कार्यरत हजारों शिक्षाकर्मियों में सरकार के उपेक्षा पूर्ण नीति के कारण आक्रोश उत्पन्न हो गया है. तीन दशकों से उच्च शिक्षा प्रदान कर रहे संबद्ध डिग्री महाविद्यालयों के हजारों शिक्षाकर्मी भुखमरी की स्थिति में फटे हाल जीवन यापन करने को मजबूर हैं. संबद्ध डिग्री महाविद्यालय में 60 से 70 प्रतिशत छात्र, छात्राएं उच्च शिक्षा ग्रहण करते हैं. सरकार के वित्त रहित शिक्षा नीति के शिकार शिक्षाकर्मी घोर अपमानित जीवन व्यतीत कर रहे हैं. सरकार द्वारा दिया जाने वाला सहायक अनुदान भी सही ढंग से शिक्षाकर्मियों को नहीं मिल रहा है. छह वर्षो से अनुदान का लंबित रहना सरकार की मंशा पर प्रश्नचिन्ह खड़ा करता है. उन्होंने कहा कि पांच सूत्री मांगों में सभी संबद्ध डिग्री महाविद्यालय का अधिग्रहण करने, संबद्ध महाविद्यालय की समस्या के स्थाई समाधान के लिये समान काम के लिरे समान वेतन लागू करने, विश्वविद्यालय के सभी निकायों में संबद्ध डिग्री महाविद्यालय की भागीदारी सुनिश्चित करने, संबद्ध डिग्री महाविद्यालय के शिक्षक एवं शिक्षकेतर कर्मियों को भविष्य निधि कोष, कर्मचारी कल्याण कोष, सामूहिक जीवन बीमा, सेवा पुस्तिका की सुविधा उपलब्ध कराने की मांग की गयी है. धरना में प्रो दीपक कुमार सिंह, प्रो पुष्पलता सिंह, प्रो शिशुपाल कुमार, प्रो शंकर भगत, प्रो प्रेम चंद ठाकुर, सनी कुमार गुप्ता, प्रो शिव कांत झा, अशोक कुमार सहित अन्य शामिल थे.

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored